नई दिल्ली, जेएनएन। केएल राहुल ने न्यूजीलैंड के विरुद्ध ऑकलैंड में खेले गए दूसरे मुकाबले में शानदार बल्लेबाजी का परिचय देते हुए नाबाद 57 रन की पारी खेली और जीत दिलाकर ही पवेलियन लौटे। रोहित के साथ ओपनिंग करने आए राहुल इस मैच में आखिरी क्षण तक क्रीज पर टिके रहे और इस दौरान 50 गेंदों का सामना करते हुए नाबाद अर्धशतकीय पारी खेली। पिछले मैच में 27 गेंदों पर 56 रन की पारी खेलने वाले राहुल इस मैच में टिके रहे क्योंकि भारतीय टीम के दो अहम बल्लेबाज रोहित शर्मा और विराट कोहली जल्दी आउट हो गए थे। इसके बाद राहुल पर काफी जिम्मेदारी आ गई थी। 

अपनी पारी के दम पर राहुल ने इस मैच में भारत को जीत दिलाई और प्लेयर ऑफ द मैच भी चुने गए। मैच के बाद राहुल ने कहा कि इस मैच की परिस्थिति, टारगेट और पिच सब पहले मैच के मुकाबले बिल्कुल ही अलग थे। इस स्थिति में मुझे पता था कि क्या करना है। मैं पहले मैच की तरह नहीं खेल सकता था। इस मैच में मेरे लिए अलग तरह की जिम्मेदारी थी क्योंकि हमने रोहित और विराट का विकेट जल्द ही गंवा दिया था और मुझे क्रीज पर रुकना था। ऐसा करके ही मैं टीम को जीत दिला सकता था। 

केएल राहुल लगातार रन बना रहे हैं और अपनी निरंतरता के बारे में उन्होंने कहा कि मुझे नहीं पता कि क्या कहना चाहिए। मैं अब अपने खेल को ज्यादा समझता हूं और इसे ज्यादा पढ़ सकता हूं जिसकी वजह से मुझे लगातार रन बनाने में मदद मिल रही है। टी 20 मैचों में पिछले कुछ गेम में मैं इसी सोच की वजह से ज्यादा रन बना पाने में सक्षम हो पा रहा हूं। के एल राहुल ने न्यूजीलैंड के खिलाफ लगातार दो मैचों में अर्ध शतक लगाया और टी 20 इंटरनेशनल क्रिकेट में भारत की तरफ से अपने पहले ही दो मैचों में दो लगातार अर्धशतक जड़ने वाले पहले बल्लेबाज बने। इसके अलावा उन्होंने दो लगातार मैचो में भारतीय विकेटकीपर के तौर पर टी 20 में लगातार दो अर्धशतक लगाए और धौनी के रिकॉर्ड की बराबरी कर डाली। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस