नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। भारतीय क्रिकेट टीम के आलराउंडर हार्दिक पांड्या ने इंटरनेशनल क्रिकेट में शानदार शुरुआत की थी। अब उनके प्रदर्शन में गिरावट आई है। पिछले कुछ महीनों में गेंदबाजी नहीं करने की वजह से उनको टेस्ट टीम से बाहर होना पड़ा। हार्दिक की बल्लेबाजी और तेज गेंदबाजी की वजह से लोग उनकी तुलना दिग्गज कपिल देव से करने से नहीं चूकते। अब खुद पूर्व कप्तान ने कहा है कि हार्दिक उनके जैसे नहीं हैं।

भारतीय क्रिकेट में पिछले कुछ सालों से यह चर्चा चलती आ रही है कि क्या हार्दिक पांड्या पूर्व धुरंधर आलराउंडर कपिल देव जैसे हैं। कई बार इस बारे में कपिल ने भी बात की है और अब तो उन्होंने एकदम से साफ कर दिया कि दोनों के बीच तुलना नहीं की जानी चाहिए क्योंकि वो दोनों एक जैसे है ही नहीं। हार्दिक को टी20 विश्व कप टीम में जगह दी गई थी। इस विश्व कप में वह गेंदबाजी करते हुए भी नजर आने वाले हैं। 

विराट कोहली और रवि शास्त्री ने तोड़ा नियम, तो इंग्लैंड क्रिकेट के अधिकारी भी थे बुक लांच में मौजूद

कपिल ने हिन्दुस्तान टाइम्स से बात करते हुए कहा, "एक कप्तान के लिए दो तरह से आलराउंडर महत्वपूर्ण होते हैं। एक बल्लेबाजी आलराउंडर और दूसरा गेंदबाजी आलराउंडर। हार्दिक एक बल्लेबाजी आलराउंडर हैं जबकि मैं गेंदबाजी आलराउंडर था। तो अगर जो कप्तान के पास टी20 में दो तरह के आलराउंडर हो तो बहुत ज्यादा मदद मिलेगी।"

आगे उन्होंने कहा, "अगर एक चोटिल हो जाता है तो आपके पास फिर भी दूसरा होता है। अगर जो दोनों ही आलराउंडर चोटिल हो जाए तो फिर तालमेल बिठाना बहुत ही ज्यादा मुश्किल हो सकता है। इसी वजह से मैं कहता हूं कि हमें दोनों तरह से आलराउंडर की तरफ जाना चाहिए। एक जो बल्लेबाजी में हो और दूसरा जो गेंदबाजी आलराउंडर हो।"

मैनचेस्टर टेस्ट रद होने से इंग्लैंड क्रिकेट को भारी नुकसान, लग सकता है 200 करोड़ रुपये का झटका

 

Edited By: Viplove Kumar