ब्रिसबेन, एएनआइ। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड ने शतकीय साझेदारी करके टीम इंडिया को अच्छी स्थिति में लाने वाले वाशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर की तारीफ करते हुए उन्हें इस बात का श्रेय दिया कि उनकी वजह से भारतीय टीम मुसीबत से बाहर निकल आई। उन्होंने कहा कि, उनकी टीम के गेंदबाज भारत के निचले क्रम के बल्लेबाजों को जल्दी आउट करने की अपनी योजनाओं पर सही तरीके से अमल में नहीं ला पाए और उन्हें इसका खमियाजा भुगतना पड़ा। 

तीसरे दिन का मैच खत्म होने के बाद वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में जोश हेजलवुड ने कहा कि, शार्दुल व सुंदर के बीच अहम साझेदारी जरूर हुई, लेकिन हमने उन्हें आउट करने में सफलता हासिल की। एक वक्त जब स्कोर 6 विकेट पर 200 रन था तो हमें लग रहा था कि, हम भारत पर हावी हैं, लेकिन इन दोनों ने सममुच गजब की बल्लेबाजी की और हमें चौंका दिया। उन्होंने कहा कि हम शायद उस समय में अच्छी तरह से अपनी योजना का लागू नहीं कर सके जैसा कि हम चाहते थे लेकिन हमें कुछ मौके मिले थे। उम्मीद करता हूं कि हम आगे इन मौकों का फायदा उठा सकेंगे लेकिन क्रेडिट इन दोनों बल्लेबाजों शार्दुल और वाशिंगटन को जाता है। उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की और मुझे लगता है, इससे दिखता है कि यह विकेट बल्लेबाजी के लिहाज से काफी अच्छा है।

हेजलवुड ने स्वीकार किया कि ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे दिन कुछ मौके गंवा दिए जिससे अंत में अंतर पैदा हो सकता था। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि खिलाड़ियों ने फिर अच्छी गेंदबाजी की और हर किसी ने हमारा सहयोग किया। लेकिन कुछ मौकों पर चूक गए और मुझे लगता है कि कुछ मौके हमने बनाए थे। अगर हम इन मौकों को हासिल कर लेते तो इससे थोड़ा अंतर पैदा हो सकता था। आपको बता दें कि जोस हेजलवुड ने पहली पारी में भारत के खिलाफ शानदार गेंदबाजी की और 5 विकेट लिए। उन्होंने कहा कि, अगर हम उन्हें धीमी गेंद करते तो ये उनका विकेट लेने का ज्यादा बेहतर तरीका था क्योंंक बाउंस गेंदों पर वो सामने और विकेट के पीछे रन बना सकते थे। 

Ind-vs-End

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप