इस्लामाबाद, आईएएनएस। पाकिस्तान दौरे पर श्रीलंका क्रिकेट टीम के टॉप खिलाड़ियों के मना करने के बाद चयनकर्ताओं ने नए सिरे से टीम का चयन किया। अनुभवी खिलाड़ियों के दौरे से पीछे हटने के बाद चुनी गई श्रीलंकाई टीम पहले से कमजोर मानी जा रही है। पाकिस्तान के पूर्व कोच जावेद मियांदाद ने पाकिस्तान को इस पर ध्यान ना देते हुए अपना सर्वश्रेष्ठ खेल दिखाने को कहा है।

मियांदाद का कहना है कि मेजबान टीम को यह बात नजर अंदाज कर देनी चाहिए कि उसके सामने कैसी टीम खेलने उतर रही है। टीम का ध्यान अपना सबसे बेहतरीन खेल दिखाने पर होना चाहिए। पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच वनडे और टी20 मैचों की सीरीज खेली जानी है। श्रीलंका की टीम दौरे की शुरुआत 27 सिंतबर से करेगी।

ये भी पढ़ें: मलाला बोली- पाकिस्तान को दे दें कश्मीर, भारतीय खिलाड़ी का जवाब- पहले खुद तो लौटने की हिम्मत दिखाओ

पाकिस्तान दौरे पर आने से मना करने वाले खिलाड़ियों के लिए मियांदाद ने कार्रवाई की मांग की है। उनका मानना है कि इंटरनेशनल मैच को नहीं खेलकर इन खिलाड़ियों ने विदेशी टी20 लीग में भाग लेने को ज्यादा प्राथमिकता दी है। मियांदाद का इशारा इंडियन प्रीमियर लीग(IPL) की तरफ था।

सुरक्षा की वजह से श्रीलंका टीम के मुख्य खिलाड़ियों ने दौरे से नाम वापस ले लिया था। इसमें टी20 के कप्तान लसिथ मलिंगा, एंजेलो मैथ्यूज, दिनेश चंडीमल, सुरंगा लकमल, दिमुथ करुणारत्ने, थिसारा परेरा, अकिला धनंजय, धनंजय डी सिल्वा, कुशल परेरा और निरोशन डिकवेला के नाम शामिल हैं।

ये भी पढ़ें: दिग्गज ने उठाए चयन पर सवाल, रोहित नहीं इन दो बल्लेबाजों को मिलनी चाहिए थी जगह

सीरीज से पहले मियांदाद का कहना था, "श्रीलंका की तरफ से कौन- कौन से खिलाड़ी यहां खेलने आ रहे हैं यह बात मायने नहीं रखती है। पाकिस्तान की टीम को टीम कैसी है यह बिना देखे अपना सबसे बेहतरीन खेल दिखाना चाहिए।"

 

Posted By: Viplove Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप