लंदन, जेएनएन। इंग्लैंड क्रिकेट टीम के अनुभवी तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने दोबारा क्रिकेट शुरू होने खिलाड़ियों की जिम्मेदारी पर बात की है। उनका मानना है कि कोरोना संक्रमण से बिगड़े हालात सामान्य होने के बाद जब दोबारा क्रिकेट शुरू होगा तो टीम के खिलाड़ियों को एक दूसरे को प्रेरित करना होगा। उन्होंने आईसीसी क्रिकेट कमेटी द्वारा गेंद पर लार के इस्तेमाल पर पाबंदी लगाने की सिफारिश की है। इसे एंडरसन ने बहुत बड़ा कदम ठहराते हुए तलतीफ जाहिर की।

कोरोना वायरस संक्रमण के फैलने की वजह से इंग्लैंड क्रिकेट टीम को श्रीलंका के दौरे से बिना मैच खेले ही वापस लौटना पड़ा। 1 जुलाई तक इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट ने सभी तरह की क्रिकेट गतिविधि पर रोक लगाया हुआ है। इसके बाद अगस्त में तीन मैचों की टेस्ट और इतने ही टी20 मुकाबलों के लिए पाकिस्तान की टीम इंग्लैंड का दौरा करेगी।

इंस्टाग्राम चैट पर बता करते हुए इंग्लैंड की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज एंडरसन ने अपनी बातें रखी। "हम काफी खुश किस्मत हैं (इंग्लैंड में) लगभग सभी टेस्ट मैचों के टिकटों की बिक्री हो जाती है। खासकर पहले कुछ दिनों की टिकटें तो हाथों हाथ बिक जाती है। हमें दर्शकों की भारी संख्या का समर्थन मिलता है जिससे आप अपने आप को प्रेरित करने आसान हो जाता है।"

"जब आप दर्शकों के खचाखच भरे स्टेडियम में पहुंचते हैं तो मैच के लिए खुद को तैयार करना वाकई बहुत ही आसान हो जाता है। मुझे लगता है कि हम सभी खिलाड़ियों के एक दूसरे की तरफ जाना सीखना पड़ेगा ताकि जब मैदान पर दर्शक ना हों, वैसा माहौल ना हो, जब हमें दर्शकों के उत्साह बढाने की जगह स्टेडियम में सिर्फ चमड़े का आवाज गूंजती हुई सुनाई दे खाली पड़े तो सभी को प्रेरित कर सकें।" 

कोविड 19 महामारी के खतरे को देखते हुए आईसीसी क्रिकेट कमेटी ने गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर पाबंदी लगाने की सिफारिश की है। इस बारे में एंडरसन ने अपना राय रखते हुए कहा, "यह बहुत ही बड़ी बात है क्योंकि गेंद को स्विंग कराने के लिए आपको इसे चमकाना होता है और जब इसपर खरोंच लगती है तो इसे ठीक करने के लिए चमकाना जरूरी होता है।"

 

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस