नई दिल्ली, जेएनएन। Ind vs Eng: भारत और इंग्लैंड के बीच पिंक बॉल से 24 फरवरी को शुरू हुए टेस्ट मैच को खत्म हुए 6 दिन का समय हो गया है, लेकिन अभी तक अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में लाल मिट्टी से बनी पिच की आलोचना हो रही है। तमाम दिग्गजों ने इस पिच को लेकर सवाल खड़े किए हैं, जबकि कप्तान विराट कोहली समेत कई दिग्गज ऐसे हैं, जिन्होंने बल्लेबाजों की आलोचना की है। इस बीच पाकिस्तान टीम के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने कहा है कि आइसीसी को अहमदाबाद की पिच के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए।

चौथे और सीरीज के आखिरी टेस्ट मैच को शुरू होने में अब एक दिन का समय बाकी है। बावजूद इसके तीसरे टेस्ट मैच की बातें लगातार हो रही हैं। भारत ने महज 2 दिन में इंग्लैंड की टीम के खिलाफ मुकाबला 10 विकेट से जीत लिया था। 54 साल में पहली बार ऐसा हुआ था जब मुकाबला दो दिन में समाप्त हो गया। भारत की तरफ से अक्षर पटेल और आर अश्विन ने शानदार गेंदबाजी की, लेकिन पाकिस्तानी दिग्गज इंजमाम उल हक ने कहा है कि उनकी तारीफ क्यों की जाए, जबकि जो रूट ने भी उसी पिच पर 8 रन देकर 5 विकेट हासिल किए हैं।

इंजमाम उल हक ने कहा है कि ऐसी पिच टेस्ट क्रिकेट के लिए अच्छी नहीं है। मैच दो दिन में खत्म हो गया है। इसका मतलब विकेट में कुछ खराबी रही है। ऐसे में आइसीसी को इसके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। इंजमाम ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, "कोई सोच भी नहीं सकता था और न ही मुझे याद है कि आखिरी बार टेस्ट मैच दो दिनों में कब खत्म हुआ था। क्या भारत ने अच्छा खेला या यह विकेट का व्यवहार था? क्या ऐसे विकेट टेस्ट मैचों का हिस्सा होना चाहिए? मुझे लगा कि भारत कुछ शानदार क्रिकेट खेल रहा है। उन्होंने पहले ऑस्ट्रेलिया को हराया और दूसरे टेस्ट में शानदार वापसी की, लेकिन इस तरह की विकेट तैयार करना, मुझे लगता है कि क्रिकेट के साथ ऐसा काम करना सही नहीं है।"

उन्होंने आगे कहा, "यहां तक कि टी20 मैचों में स्कोरकार्ड भी हमने अहमदाबाद से अच्छा देखा है। आइसीसी को इस पर कार्रवाई करनी चाहिए। ये किस प्रकार के विकेट हैं जो एक टेस्ट मैच पूरे दो दिन भी नहीं चल सकते हैं? एक दिन से भी कम समय में 17 विकेट गिर गए। हम यहां क्या खेल रहे हैं? जरूर, आप घरेलू फायदा उठाते हैं, स्पिन ट्रैक बनाए जाने चाहिए, लेकिन इस तरह की पिच मुझे नहीं लगती कि उपयोग होनी चाहिए।"

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप