नई दिल्ली, जेएनएन। एक वर्ष के बाद रवींद्र जडेजा को बांग्लादेश के खिलाफ एशिया कप में टीम में शामिल किया गया। उन्हें चोटिल हार्दिंक पांड्या की जगह टीम में मौका मिला था और इस मौके को जडेजा ने बेहतरीन तरीके से भुनाया। उन्होंने अपने प्रदर्शन से साबित कर दिया कि वो अब भी वनडे टीम में खेलने के लायक हैं। जडेजा ने बांग्लादेश के खिलाफ इतना बेहतरीन प्रदर्शन किया कि उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया। 

लंबे समय के बाद टीम में वापसी और पहले ही मैच में मैन ऑफ द मैच बने जडेजा ने कहा कि एक बार फिर से नीली जर्सी में क्रिकेट खेलकर मैं बेहद खुश हूं। मैं लंबे वक्त से एक मौके का इंतजार कर रहा था और हाथ आए मौके पर अपनी छाप छोड़ना चाहता था। मैं अपनी क्षमता के मुताबिक प्रदर्शन करना चाहता था और बांग्लादेश के खिलाफ मैच में ऐसा ही हुआ। मैं अपने इस प्रदर्शन से काफी खुश हूं। 

जडेजा ने कहा कि मैं अपने हर मैच में मेरी जो भूमिका है उसे अच्छी तरह से निभाना चाहता हूं। अब मेरी नजर पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मुकाबले पर है साथ ही मैं इस मैच के अलावा भी हर अहम मैच में अपनी टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं। पाकिस्तान के खिलाफ मैं बल्लेबाजी में भी  अपने हाथ दिखाना     चाहता हूं। बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे स्पिनर कुलदीप और चहल की गेंदबाजी के बारे में उन्होंने कहा कि मुझे दूसरे छोर से इन दोनों से काफी मदद मिली। कुलदीप और चहल दूसरी तरफ से बल्लेबाजों पर दबाव बना रहे थे और मुझे विकेट मिल रहे थे। आपको बता दें कि सुपर फोर से पहले ही मैच में बांग्लादेश के खिलाफ रवींद्र जडेजा ने अपने स्पेल के 10 ओवर में 2.90 की इकॉनामी रेट से गेंदबाजी करते हुए 29 रन देकर 4 विकेट लिए। इस दौरान उन्होंने नो बॉल के तौर पर सिर्फ एक ही एक्स्ट्रा रन दिए। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप