मुंबई, प्रेट्र। भारत और वेस्टइंडीज के बीच तीन मैचों की टी20 सीरीज का निर्णायक मुकाबला आज शाम मुंबई में खेला जाना है। दोनों ही टीमें 1-1 मैच जीतकर सीरीज में बराबर है और इस मैच का विजेता सीरीज पर कब्जा करने में कामयाब होगा। मुंबई के वानखेडे स्टेडियम पर खेले जाने वाले मुकाबले को लेकर पहले ही काफी बातें की जा चुकी है। पहले मुंबई में होने वाले मुकाबले को बदला गया और अब इसको लेकर मिलने वाले पास पर विवाद हो गया है।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित शासकों की समिति (सीओए) की पूर्व सदस्य डायना एडुल्जी ने मुंबई क्रिकेट संघ (एमसीए) से बुधवार को भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेले जाने वाले तीसरे टी-20 मैच के लिए कांपलिमेंट्री पास की मांग की। भारतीय महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान इडुल्डी ने एमसीए अध्यक्ष विजय पाटिल को भेजे एक ईमेल में पास का अनुरोध किया है।

एडुल्जी ने कहा कि इससे पहले उन्हें मुंबई में होने वाले मैचों के लिए एमसीए से कांपलिमेंट्री पास मिलता था, लेकिन इस बार ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने अपने ईमेल में लिखा, 'मैं, डायना इडुल्जी भारतीय महिला टीम की पूर्व कप्तान हूं, मुझे प्रेसिडेंट बाक्स के दो कांपलिमेंट्री पास मिलते थे। शरद पवार और आशीष शेलार मेरे घर पर पास भेज दिया करते थे। आप पिछले मैचों के रिकॉर्ड की जांच कर सकते हैं। आपको मेरा नाम सचिन (तेंदुलकर), (सुनील) गावस्कर, नारी कांट्रेक्टर, (दिलीप) वेंगसरकर और स्वर्गीय (अजीत) वाडेकर के साथ मिलेगा।'

इडुल्जी ने बताया कि उन्होंने एमसीए अध्यक्ष को ईमेल भेजा है, लेकिन अभी तक उन्हें कोई पास नहीं मिला है। एमसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि चूंकि एडुल्जी ने एमसीए अध्यक्ष को लिखा है, इसलिए उनके पास जारी करने को लेकर फैसला उन्हें ही करना है। अधिकारी ने दावा किया कि इडुल्जी ने पास के लिए एमसीए सचिव संजय नाइक या संयुक्त सचिव शाहआलम शेख से संपर्क नहीं किया है।

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस