बेंगलुरु, एजेंसी। India vs South Africa: अगले साल होने वाले टी-20 विश्व कप पर नजरें टिकाए बैठे कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वह भारतीय खिलाडि़यों को 'निर्भीक' इकाई में ढालने के लिए खतरे उठाने को तैयार हैं। बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम के मैदान को लक्ष्य का पीछा करने वाली टीमों के अनुकूल माना जाता है। इसके बावजूद भारतीय कप्तान का पहले बल्लेबाजी करने का फैसला हैरानी भरा था और टीम को इसका नुकसान भी हुआ, लेकिन कोहली ने कहा कि सर्वश्रेष्ठ संयोजन तलाशने के लिए उन्हें खतरे उठाने होंगे।

विराट कोहली ने कहा, 'हमें खतरे उठाने होंगे, जब आप मैच जीतना चाहते हो तब भी आपको खतरे उठाने होते हैं। मुझे लगता है कि अगर हम अपने अनुकूल हालात से और ज्यादा बाहर निकलकर खेलने के इच्छुक होंगे तो फिर हम इससे घबराएंगे नहीं कि टॉस के दौरान क्या हुआ। हमारा सामान्य विचार यही है कि टॉस के दौरान क्या हुआ, उसे टीम के रूप में समीकरण से बाहर कर दें। हम जो सर्वश्रेष्ठ संयोजन खिला सकते थे, उसे खिलाने का प्रयास किया। हमारी बल्लेबाजी नौवें नंबर तक है इसलिए आप पहले बल्लेबाजी करो या पहले गेंदबाजी करो, आपको पता होगा कि हम अच्छी स्थिति में होंगे।

कप्तान विराट कोहली ने आगे कहा, "मानसिक तौर पर अगर हम खुद को ऐसी स्थिति में ढालेंगे जिसमें हम कोई एक चीज करने की जगह कुछ भी करने को तैयार रहेंगे तो फिर हम किसी भी तरह की स्थिति का सामना कर उसका फायदा उठाने के लिए बेहतर स्थिति में होंगे। जब तक आप खतरा उठाने के लिए तैयार नहीं रहते, तब तक आपको किसी ना किसी तरह के दबाव का सामना करना होगा। हम सुनिश्चित करना चाहते हैं कि विश्व कप से पहले हम इन सभी चीजों का हल निकाल लें।" इस मैदान पर पिछले छह टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में किसी टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला नहीं किया।

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप