नई दिल्ली, जेएनएन। साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली जाने वाली टेस्ट सीरीज के लिए रोहित शर्मा को टेस्ट ओपनिंग दिए जाने का फैसला लिया गया है। नियमित ओपनर केएल राहुल को बाहर कर चयनकर्ताओं ने रोहित को बतौर टीम में जगह दी है। इस मामले में पूर्व दिग्गज अपनी अपनी अलग राय रखते हैं। पूर्व भारतीय विकेटकीपर नयन मोंगिया ने रोहित से टेस्ट में ओपनिंग कराए जाने के फैसला से इत्तेफाक नहीं रखते हैं।

भारतीय टीम साउथ अफ्रीका के खिलाफ अगले महीने तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी। इस सीरीज के लिए चुनी गई टीम का एलान करते हुए मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने साफ किया कि रोहित को बतौर ओपनर मौका दिया जाएगा। वनडे और टी20 में ओपनिंग करने वाले रोहित ने इससे पहले कभी भी टेस्ट क्रिकेट में ओपनर की भूमिका नहीं निभाई है।

मोंगिया ने कहा, "ओपनिंग एक विशेषज्ञ का काम है, जैसे कि विकेटकीपिंग। वह लिमिटेड ओवर क्रिकेट में ओपनिंग करते रहे हैं लेकिन टेस्ट क्रिकेट में ओपनिंग करने के लिए मानसिक तौर पर बहुत बदलाव की जरूरत होती है। हां, अब अगर उन्होंने उसी तरह से खेलने का फैसला किया हो जैसा की वह लिमिटेड ओवर्स क्रिकेट में करते हैं, तो अलग बात है। उनको अपनी ताकत पर भरोसा करते हुए वैस ही खेलना होगा। ना कि टेस्ट क्रिकेट के मुताबिक उसमें बदलाव करें।" 

ये भी पढ़ें: India vs Pakistan विश्व कप मैच ने तोड़ डाले ICC के सभी रिकॉर्ड

युवा प्रियांक पांचाल और अभिमन्यू ईश्वरन को मौका नहीं मिलने पर मोंगिया ने कहा, "आखिर उनको मौकै क्यों नहीं दिया जाता जो बतौर ओपनर सीजन में 1000 से 800 रन बना चुके हैं। घरेलू क्रिकेट में पंचाल और ईश्वरन जैसे बल्लेबाज जिनका औसत 50-60 के करीब है। उनको आखिरी कब मौका मिलेगा ? यह उनके लिए मनोबल तोड़ने जैसा है।" 

 

Posted By: Viplove Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप