नई दिल्ली, जेएनएन। India vs South Africa: मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) ने अपनी पारी से सबका दिल जीत लिया। भारत में अपने पहले ही टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाकर उन्होंने सबको अपना मुरीद बना लिया, लेकिन उनकी इस पारी के पीछे किसका सबसे बड़ा योगदान रहा इसका खुलासा भी मयंक ने खुद किया। मयंक अग्रवाल ने बताया कि जब मैंने अपना शतक पूरा कर लिया उसके बाद मुझे काफी राहत महसूस हुई। हालांकि मैंने पिच पर काफी वक्त बिता लिया था तो मुझे पता चल गया था कि गेंद कैसे आ रही है और इससे मुझे काफी मदद मिली। जब मैं खेल के पहले दिन नाबाद पवेलियन लौटा था तब विराट कोहली ने मुझसे बड़ी पारी खेलने की बात कही थी। 

मयंक ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहा कि जब मैंने अपना शतक पूरा कर लिया तब विराट मेरे पास आए और उन्होंने मुझसे शतक को बड़ी पारी में बदलने की बात कही। उन्होँंने मुझे दोहरा शतक लगाने के लिए प्रेरित किया था और इसी वजह से मैं ऐसा कर पाया। मयंक ने पहली पारी में 8 घंटे तक बल्लेबाजी की। उन्होंने बताया कि मैंने इसके लिए काफी मेहनत से ट्रेनिंग की है। उन्होंने बताया कि 2017-18 के घरेलू सीजन के दौरान मैंने काफी मेहनत की थी। मैं छह घंटे तक बल्लेबाजी करता था। इसमें शुरुआत दो से ढ़ाई घंटे बल्लेबाजी करने के बाद मैं थोड़ा रेस्ट करता था और फिर से प्रैक्टिस शुरू कर देता था। मैं इस दौरान काफी दौड़ता भी था जिसका मुझे लाभ मिला। 

मयंक ने 215 रन की पारी खेलने का बाद बताया कि वो अपनी इस पारी से काफी खुश हैं और उन्होंने रोहित शर्मा की भी काफी तारीफ की। रोहित के साथ मिलकर मयंक ने पहले विकेट के लिए 300 से ज्यादा की साझेदारी की और इसके दम पर टीम इंडिया ने पहली पारी में 500 से भी ज्यादा का स्कोर विरोधी टीम के सामने खड़ा कर दिया। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस