पुणे, प्रेट्र। India vs South Africa test series 2019: दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज कैगिसो रबादा (Kagiso Rabada) ने भारतीय पारी के दौरान चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) से छींटाकशी करने की कोशिश की। इस पर पुजारा ने कहा कि वह मुझे परेशान करने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन मैं अपने ही जोन में था।

रबादा ने पुजारा को आउट करने के बाद कुछ कहा था, क्योंकि वह तेंबा बावुमा के कैच छोड़ने की वजह से उन्हें शून्य पर आउट नहीं कर पाए थे। पुजारा ने कहा कि मुझे याद नहीं है कि वह क्या कह रहे थे, लेकिन वह उनमें से एक हैं जो हमेशा बल्लेबाजों को कुछ ना कुछ कहना पसंद करते हैं। यदि आप अपने जोन में होते हो तो आप मुश्किल से सुन पाते हो। बल्लेबाज होने के नाते आपको ऐसा करना भी चाहिए। ऐसे में जब आप अपने जोन में होते हो तो चूक जाते हो कि कोई क्या कह रहा है।

चेतेश्वर पुजारा पुणे टेस्ट मैच की पहली पारी में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए और मयंक अग्रवाल का बेहतरीन तरीके से साथ निभाया। पुजारा ने मयंक के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए बेहतरीन शतकीय साझेदारी करते हुए 138 रन बनाए। इस मैच में टीम इंडिया का पहला विकेट रोहित शर्मा के तौर पर जल्दी गिर गया था, लेकिन पुजारा ने मयंक के साथ मिलकर भारतीय पारी को शानदार तरीके से संभाल लिया। इस मैच में पुजारा ने 112 गेंदों का सामना करते हुए 58 रन की पारी खेली। उन्होंने अपनी पारी में 9 चौके व एक छक्का भी लगाया। 

पुणे टेस्ट मैच के पहले दिन टीम इंडिया मेहमान टीम पर हावी दिखी और खेल खत्म होने तक भारतीय टीम ने 273 रन बना लिए थे। पहले दिन का खेल खराब लाइट की वजह से कुछ देर पहले ही खत्म कर दिया गया था। पुणे में टीम इंडिया अपना दूसरा टेस्ट मैच खेल रही है। इससे पहले इस मैदान पर भारत ने एकमात्र टेस्ट मैच 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था जिसमें उसे 333 रन से हार मिली थी। 

 क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप