हैमिल्टन, पीटीआइ। India vs New Zealand T20I Series: न्यूजीलैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज टिम सेफर्ट ने कहा कि भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की विविधतापूर्ण गेंदबाजी को समझना मुश्किल है और उनकी टीम को अगर टी-20 सीरीज में वापसी करनी है तो उसे भारत से सीखना होगा कि परिस्थितियों से कैसे सामंजस्य बिठाया जाता है। भारत ने रविवार को ऑकलैंड में दूसरे टी-20 अंतरराष्ट्रीय में न्यूजीलैंड को सात विकेट से हराकर पांच मैचों की सीरीज में 2-0 से बढ़त बनाई। बुमराह ने चार ओवर में 21 रन देकर एक विकेट लिया।

टिम सेफर्ट ने कहा, "यहां तक कि पहले मैच में भी बुमराह ने धीमी गेंदें कीं। अमूमन डेथ ओवरों में यह गेंदबाज सीधी लाइन पर गेंद करता है। इसके अलावा यॉर्कर करता है। वह अपनी गेंदों में काफी बदलाव करते हैं और उन्हें खेलना मुश्किल है। गेंद काफी रुककर आ रही थी जिससे मुश्किलें बढ़ीं। इसलिए एक बल्लेबाज के रूप में आपको कुछ अवसरों पर विकेटों से हटकर यह देखना होता कि क्या गेंद सीधी लाइन पर आ रही है। मैं विकेटों पर खड़ा रहने के बजाय कुछ अलग करने में विश्वास करता हूं।"

सेफर्ट ने कहा कि न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों को भारतीय बल्लेबाजों से सीखना चाहिए। उन्होंने कहा, 'भारतीय बल्लेबाजों ने दिखाया कि कैसे गेंद की लाइन में आकर सही टाइमिंग से उसे खेलना है। धीमे विकेट पर आपको इस तरह का खेल दिखाना होता है। उनकी (गेंदबाजों की) लाइन बिगाड़ने की कोशिश करो, अच्छी गेंद पर भी शॉट लगाने के लिए सही स्थिति में आओ। टी-20 क्रिकेट में यह महत्वपूर्ण होता है। भारतीय बल्लेबाजों ने ऐसा अच्छी तरह से किया।'

सेफर्ट ने कहा कि न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने पहले दो मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन भारतीय बल्लेबाज उन पर पूरी तरह हावी रहे। उन्होंने कहा, 'ईमानदारी से कहूं तो पहले मैच में उनका स्कोर एक विकेट पर 110 था और उनके पास विकेट बचे थे। हमने पहले मैच में खराब गेंदबाजी नहीं की थी। दूसरे मैच में हम केवल 130 रन ही बना पाए और ईडन पार्क पर इस स्कोर का बचाव करना मुश्किल था। हमारे स्पिनरों ने हालांकि अच्छा प्रदर्शन किया, पर अच्छी गेंदों पर चौके लगे।'

न्यूजीलैंड की टीम अब भी सीरीज में वापसी करने के प्रति आश्वस्त है। तीसरा मैच बुधवार को यहां खेला जाएगा, जबकि अगले दो मैच वेलिंगटन और माउंट मौंगानुई में होंगे। उन्होंने कहा, "हमने दो मैच गंवा दिए, लेकिन हम बुरा नहीं खेले। हमने निश्चित तौर पर अपना सर्वश्रेष्ठ खेल नहीं दिखाया, लेकिन भारत बहुत अच्छा खेला। अगर हम बुधवार को सीरीज गंवा देते हैं तो यहीं सब कुछ समाप्त नहीं हो जाएगा। लेकिन, अगर हम वहां जीत दर्ज करते हैं तो फिर चीजों को आगे लेकर जा सकते हैं। हमने पिछली बार (2019 में) 2-1 से सीरीज जीती थी, इसलिए हमें इसे तीन मैचों की सीरीज की तरह लेना होगा, लेकिन हमें यह दिमाग में रखना होगा कि पहले दो मैच हर हाल में जीतने हैं।" 

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस