वेलिंग्टन, पीटीआइ। India vs New Zealand 1st Test: यहां बेसिन रिजर्व मैदान में भारत और मेजबान टीम के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के पहले दिन का खेल समाप्त होने के बाद भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने स्वीकार किया कि इस पिच पर खेलना कठिन है। शुक्रवार को मैच के बाद मयंक अग्रवाल ने कहा कि बेसिन रिजर्व की पेचीदा पिच पर खेलना किसी भी बल्लेबाज के लिए काफी कठिन है।

मयंक अग्रवाल ने ये भी माना है कि अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे कीवी टीम के तेज गेंदबाज काइल जैमीसन ने अपनी शानदार गेंदबाजी से भारतीय बल्लेबाजों की मुश्किलें और बढा दीं। भारत ने वर्षा से बाधित मैच के पहले दिन 5 विकेट खोकर 122 रन पर बनाए। मैच के बाद मयंक अग्रवाल ने कहा , "यहां हवा काफी तेज रफ्तार से बह रही है। आपको मैदान पर सही सामंजस्य बिठाना होता है। खासकर पहले दिन बतौर बल्लेबाज यह आसान काम नहीं है।"

विंडी वेलिंग्टन में बल्लेबाजों को परेशानी

ओपनर मयंक ने आगे कहा, "एक बल्लेबाज को कभी भी महसूस नहीं होता है कि वह जम चुका है। लंच के बाद भी बल्लेबाजी करने में मुश्किल आ रही थी। उसने (जैमीसन) शानदार गेंदबाजी की और सही दिशा में सटीक लेंथ पर गेंद डाली। जैमीसन (6 फीट 8 इंच) ने नयी गेंद का बखूबी इस्तेमाल किया और हमें जमकर परेशान किया। विकेट में नमी होने के कारण भी काइल जैमीसन को मदद मिल रही थी। बल्लेबाज को उछाल का सामना करने के लिये अतिरिक्त प्रयास करना पड़ रहा था।"

कर्नाटक टीम के बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने कहा कि सिर्फ फुल लेंथ गेंदें ही परेशान नहीं कर रही थी। ऐसी गेंद बार बार डालते रहे तो बल्लेबाज के लिये आसानी ही हो जाती है। मिला जुलाकर लगातार अच्छी गेंदबाजी करने से ही उन्हें सफलता मिली। मयंक इस मैच में 84 गेंदों में 5 चौकों का मदद से 34 रन बनाकर आउट हुए। वहीं, कप्तान विराट कोहली 2, चेतेश्वर पुजारा 11, पृथ्वी शॉ 16 और विहारी 7 रन बनाकर आउट हुए। रहाणे 28 और पंत 10 रन बनाकर नाबाद हैं।

Aus-vs-Ind

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस