नई दिल्ली, प्रेट्र। Ind vs Ban: विराट कोहली (Virat Kohli) की जगह बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 सीरीज में भारत की कप्तानी कर रहे रोहित शर्मा (Rohit Sharma) का मानना है कि कप्तान को खुद को सबसे अहम व्यक्ति नहीं मानना चाहिए।

आइपीएल में मुंबई इंडियंस की कप्तानी करने वाले रोहित ने कहा कि टी-20 में आपको कई तरह की रणनीतियां बनानी होती हैं। आपको खिलाडि़यों को समझना होता है। मुंबई इंडियंस में मैं यही करता हूं। मैं इसे इस तरह से देखता हूं कि जब आप टीम की अगुआई कर रहे होते हैं तो आप बहुत महत्वपूर्ण व्यक्ति नहीं बन जाते हो, अन्य 10 खिलाड़ी सबसे अहम हैं क्योंकि आपको उनसे बेहतर प्रदर्शन करवाना है। 

विकल्पों की कमी नहीं : रोहित ने कहा कि अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप से पहले मजबूत मध्य क्रम तैयार करने के लिए विकल्पों की कमी नहीं है। युवा खिलाडि़यों को आत्मविश्वास हासिल करने के लिए अधिक मैच देने होंगे। कुछ साल पहले टीम संतुलित थी जिसके कारण युवाओं के लिए ज्यादा मौके नहीं थे। इसके अलावा चार, पांच, छह और सात नंबर के बीच काफी बदलाव होता रहा इसलिए यह हमारे लिए इन खिलाडि़यों को आजमाने का सर्वश्रेष्ठ समय है। श्रेयस अय्यर, शिवम दुबे, मनीष पांडे और रिषभ पंत हैं। कई खिलाड़ी हैं जो यह भूमिका निभा सकते हैं।

युवाओं के लिए जगह पक्की करना आसान नही : रोहित ने कहा कि मजबूत भारतीय बल्लेबाजी क्रम में इन खिलाडि़यों के लिए जगह पक्की करना आसान नहीं होगा। उन्होंने कहा कि जब आप आइपीएल टीम में खेलते हैं तो यह अलग तरह का है और राष्ट्रीय टीम की तरफ से खेलना उससे भिन्न होता है। वे आइपीएल टीम में ऊपरी क्रम में खेलते हैं और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में यह चुनौती होती है कि जो आप चाहते हैं वह आपको नहीं मिलता। आपको इस स्थान को हासिल करना होता है। आपको मौके का अधिक से अधिक फायदा उठाना होता है। आइपीएल में 15 मैचों की गारंटी होती है लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में नहीं।

पहले बल्लेबाजी करते हुए बेहतर प्रदर्शन की जरूरत : अगले साल विश्व कप की तैयारियों के संदर्भ में रोहित ने आगे कहा कि टीम को पहले बल्लेबाजी करते हुए बेहतर प्रदर्शन करने की जरूरत है। हम कुछ खास आंकड़ों पर गौर करते हैं। भारत हो या विदेश लक्ष्य का पीछा करते हुए हमारा रिकॉर्ड अच्छा है। हमें पहले बल्लेबाजी करते हुए बड़े स्कोर बनाने और उनका बचाव करने पर ध्यान देने की जरूरत है। रोहित ने कहा कि हम चाहते हैं कि ऑस्ट्रेलिया में होने वाले विश्व कप से पहले हम हर विभाग में अव्वल बन जाएं। यह ऐसा करने के लिए सबसे सही समय है लेकिन इसके साथ ही हम मैच भी जीतना चाहते हैं।

 

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप