नई दिल्ली, प्रेट्र। India vs Bangladesh day night test match: टीम इंडिया (Team India) के ओपनर बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) को भी पहले डे-नाइट टेस्ट मैच का बेसब्री से इंतजार है। इस एतिहासिक टेस्ट मैच से पहले उन्होंने बताया कि भारत और बांग्लादेश के कप्तान को तेज गेंदबाजों के इस्तेमाल को लेकर काफी सावधानी बरतने की जरूरत है। इस मैच में अगर कप्तान तेज गेंदबाजों को लाइट में इस्तेमाल करें तो वो ज्यादा प्रभावी साबित होंगे। भारत और बांग्लादेश अपना पहला डे-नाइट टेस्ट मैच कोलकाता के ईडन-गार्डंस में शुक्रवार से खेलेंगे। 

गंभीर ने कहा कि टीम के कप्तानों के अपने तेज गेंदबाजों का इस्तेमाल अलग तरीके से करने की जरूरत है। गंभीर ने ये बातें स्टार स्पोर्ट्स से कही जिन्होंने साल 2016 में दुलीप ट्रॉफी के फाइनल मैच में इंडिया ब्लू की कप्तानी की थी। उन्होंने कहा कि लाल गेंद के साथ तेज गेंदबाजों को टेस्ट क्रिकेट में सुबह के सेशन में जल्दी इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन डे-नाइट टेस्ट मैच में उन्हें शायद लाइट जलने के बाद इस्तेमाल किया जाएगा क्योंकि उस वक्त वो ज्यादा असरदार साबित हो सकते हैं। डे-नाइट टेस्ट मैच की शुरुआत दोपहर एक बजे से की जाएगी। 

अब तक कुल 11 डे-नाइट टेस्ट मैच खेले गए हैं जिसमें कूकाबुरा और ड्यूक बॉल का इस्तेमाल किया गया है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद यानी आइसीसी ने क्रिकेट के इस पारंपरिक स्वरूप में रूचि बनाए रखने के लिए डे-नाइट टेस्ट मैच में अब तक इन्हीं गेंदों का इस्तेमाल किया था। वहीं दुलीप ट्रॉफी में भी जिस पिंक गेंद का इस्तेमाल किया गया था वो कूकाबुरा ने ही तैयार किया था। अब पहली बार भारत के एतिहासिल पिंक बॉल टेस्ट मैच में एसजी द्वारा तैयार की गई पिंक गेंद का इस्तेमाल किया जाएगा। 

गंभीर ने कहा कि मैं काफी उत्साहित हूं कि पिंक गेंद किस तरह से बर्ताव करती है। मैं कूकाबुरा गेंद से खेल चुका हूं और ये एसजी के मुकाबले काफी अलग तरीके से बर्ताव करती है। उन्होंने ये भी कहा कि टीम में रिस्ट स्पिनर का चयन एक चुनौती होगी। मुझे एक बात महसूस हुई थी कि पिंक गेंद के लिए रिस्ट स्पिनर को चुनना काफी मुश्किल था। हालांकि कृत्रिम रोशनी में और ब्लैक धागे की वजह से मुझे पूरा यकीन है कि रिस्ट स्पिनर इस मैच में बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस