नई दिल्ली, जेएनएन। स्टीव स्मिथ ने भारतीय तेज गेंदबाजों को शॉर्ट गेंद फेंकने की रणनीति पर चुनौती दी और इसके ठीक बाद पूर्व भारतीय ओपनर बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम को अब सावधान किया है। आइपीएल 2020 में राजस्थान की कप्तानी करने के बाद स्टीव स्मिथ भारत के खिलाफ पीली जर्सी में मैदान पर उतरने को तैयार हैं। 

भारत के खिलाफ क्रिकेट सीरीज में मैदान पर उतरने से पहले स्मिथ ने कहा कि, भारतीय तेज गेंदबाजों की उनके खिलाफ शॉर्ट गेंद फेंकने की रणनीति ज्यादा काम नहीं आएगी। अब इसके बाद सुनील गावस्कर ने ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम को चेतावनी दी है कि, उन्हें मो. शमी की घातक तेज गेंदबाजी से सावधान रहने की जरूरत है। भारत की तेज गेंदबाजी अटैक को शमी और भी ज्यादा खतरनाक बना देते हैं और वो अपनी घातक बाउंसर से कंगारू टीम की बल्लेबाजी को ध्वस्त करने की ताकत रखते हैं। 

सुनील गावस्कर ने आने वाली क्रिकेट सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाने वाले गेंदबाज के तौर पर 2019 के सबसे सफल भारतीय तेज गेंदबाज मो. शमी का चयन किया। स्मिथ की बाउंसर चुनौती के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि, कोई भी बल्लेबाज शॉर्ट गेंदों का सामना करने के लिए एवर रेडी नहीं है। उन्होंने कहा कि शॉर्ट गेंदों का सामना करने के लिए कोई भी बल्लेबाज एवर रेडी नहीं होता। एक बढ़िया शॉर्ट बॉल किसी भी बल्लेबाज को मुश्किल में डालने के लिए काफी है।  

गावस्कर ने कहा कि, कोई बल्लेबाज ये नहीं कह सकता है कि मैं पूरी तरह से तैयार हूं। मो. शमी के पास विशेष रूप से एक शानदार बाउंसर है। अगर वो सही तरीके से बाउंसर फेंक दें तो कई सारे बल्लेबाज उसे खेलने में सक्षम नहीं हो पाएंगे। वो बहुत ज्यादा लंबे नहीं हैं और उनकी शॉर्ट गेंद आपके कंधे और सिर के आसपास रहती है और ये सबसे मुश्किल गेंद होती है जिसे खेलना आसान नहीं है। यही नहीं अगर वो सही रिदम में हों तो वो ऐसे गेंदबाज नहीं हैं जिन्हें आसानी से खेला जा सके। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच क्रिकेट सीरीज की शुरुआत 27 नवंबर से होगी। 

Aus-vs-Ind

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस