सिडनी, प्रेट्र। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के कप्तान एरोन फिंच का मानना है कि भारतीय टीम काफी हद तक अपने शुरुआती तीन बल्लेबाजों पर निर्भर है और इस वजह से हमारी कोशिश होगी कि इन्हें जल्द से जल्द आउट किया जाए। फिंच ने कहा कि उनकी टीम का पहला लक्ष्य टॉप तीन बल्लेबाजों शिखर धवन, रोहित शर्मा व विराट कोहली को आउट करना होगा। पिछले एक वर्ष में रोहित का औसत 50, धवन का 75 और विराट का 133 रहा है। ये तीनों अपनी टीम के लिए काफी रन बनाते हैं और काफी गेंद खेलते हैं। इन्हें आउट करना सबसे अहम हैं क्योंकि एक बार क्रीज पर टिकने के बाद वो तेजी से रन बनाते हैं और फिर उन्हें आउट करना आसान नहीं होता। 

फिंच ने कहा कि इन बल्लेबाजों की शानदार खेल की वजह से धौनी जैसे खिलाड़ियों से भरी टीम इंडिया के मध्यक्रम की ज्यादा परीक्षा नहीं हुई है। हालांकि दिनेश कार्तिक, धौनी, व केदार जाधव अपनी भूमिका जरूर निभा सकते हैं लेकिन शुरुआती तीन बल्लेबाज ज्यादा अहम हैं और इन्हें नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। पहले वनडे मैच के लिए ऑस्ट्रेलिया ने अंतिम ग्यारह का एलान कर दिया है। फिंच ने कहा कि भारत के खिलाफ पहले हमें तीन वनडे मैच अपनी धरती पर खेलने हैं फिर पांच मैच खेलने हमें भारत जाएंगे और फिर पाकिस्तान के खिलाफ हमें खेलना है। इसके बाद कुछ अभ्यास मैच और फिर न्यूजीलैंड के खिलाफ भी अभ्यास मैच खेलना है। 

फिंच ने कहा कि टेस्ट में खराब प्रदर्शन के बाद उनके पास एक बार फिर से नई शुरुआत करने का मौका है। बुमराह के बारे में फिंच ने कहा कि बुमराह ने भारतीय वनडे टीम की कामयाबी में बड़ी भूमिका निभाई है। वहीं उन्होंने भुवी के बारे में कहा कि उन्हें भी सभी स्तर पर सफलता मिली है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय में दो स्पिनरों कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने भी टीम के लिए बड़ी भूमिका निभाई है। उनकी टीम का कोई बड़ा कमजोर पक्ष नहीं है। जडेजा के रूप में टीम में उनके पास अतिरिक्त स्पिन विकल्प है जबकि केदार भी ऑफ स्पिन गेंदबाजी कर सकते हैं। ऑस्ट्रेलिया ने अपने तीन मुख्य तेज गेंदबाजों मिशेल स्टार्क, पैट कमिंस और जोश हेजलवुड को वनडे सीरीज से आराम दिया है जबकि पीटर सिडल की टीम में वापसी हुई है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern