रतन चंदेल, रोहतक। महिला टी-20 व‌र्ल्ड कप के लिए आस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले संजीव वर्मा ने बेटी शेफाली को निडर होकर बल्लेबाजी करने के लिए प्रेरित किया था। प्रतिभा की धनी शेफाली पर पिता की प्रेरणा का ऐसा असर हो रहा है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आइसीसी) महिला टी-20 व‌र्ल्ड कप के प्रत्येक मैच में वे ताबड़तोड़ पारियां खेल रही हैं। अपनी तूफानी बल्लेबाजी के चलते ही रोहतक की शेफाली महिला व‌र्ल्ड कप में छा गई हैं। बृहस्पतिवार को भारत और न्यूजीलैंड के बीच हुए मैच में भी शेफाली में 34 गेंदों पर 46 रनों की शानदार पारी खेली। इसमें तीन छक्के और चार चौके शामिल रहे। भारतीय महिला क्रिकेट टीम की 16 वर्षीय सलामी बल्लेबाज शेफाली व‌र्ल्ड कप में अच्छी-अच्छी गेंदबाजों की धुनाई कर रही है। रोहतक की लाडली शेफाली लगातार दूसरे मैच में प्लेयर ऑफ द मैच चुनी गई हैं।

 सहवाग से की जा रही तुलना

शेफाली की तुलना अब वीरेंद्र सहवाग से की जाने लगी है। टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज सहवाग भी अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए मशहूर रहे हैं। उन्हीं की तरह की ही शेफाली भी निडर होकर मैदान पर लंबे शॉट्स लगा रही हैं। इससे भारतीय टीम को न केवल मजबूत शुरुआत मिल रही है बल्कि टीम लगातार अच्छा प्रदर्शन करते हुए जीत भी दर्ज कर रही है। इससे पहले भारत ने बांग्लादेश को 18 रनों से हराया थ।

परिजनों को व‌र्ल्ड कप जीतने की उम्मीद

रोहतक की घनीपुरा कालोनी निवासी शेफाली के पिता संजीव ने बताया कि वह बेटी को निडर होकर खेलने के साथ ही टीम को जिताने के लिए हरसंभव प्रयास करने के लिए समय समय पर प्रेरित करते हैं। व‌र्ल्ड कप में भारतीय महिला टीम अच्छा प्रदर्शन कर रही है। वहीं, टीम इंडिया की लगातार तीसरी जीत से परिजनों को उम्मीद है कि शेफाली व पूरी टीम अबकी बार विश्व कप जीतकर आएगी और देश का नाम रोशन करेगी। संजीव के अनुसार बड़ा टूर्नामेंट जीतने के लिए टीम को मिलकर और बिना किसी दबाव के खेलना होगा।

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस