लंदन, पीटीआइ। इंग्लैंड टीम के पूर्व ऑलराउंडर इयान बॉथम ने एक बड़ा खुलासा किया है। इयान बॉथम ने दावा किया है कि उन्हें इस साल की शुरुआत यानी जनवरी में ही कोरोना वायरस हो गया था, लेकिन गलती से उन्होंने उसे फ्लू समझ लिया था। एक करोड़ से ज्यादा लोगों को अब तक अपनी चपेट में लेने वाली इस महामारी ने 5 लाख से ज्यादा लोगों की जान भी ले ली है। हालांकि, इयान बॉथम अब बिल्कुल स्वस्थ हैं।

गुड मॉर्निंग ब्रिटेन से बात करते हुए इयान बॉथम ने कहा है, "मुझे लगता है कि याद रखने वाली बात यह है कि छह महीने पहले कोई भी नहीं जानता था कि यह क्या है, इसके बारे में सुना तक नहीं था। मैं वास्तव में इससे पीड़ित था। मैं दिसंबर के अंत में और जनवरी की शुरुआत में ग्रसित था। मुझे लगा कि मुझे बुरा फ्लू हुआ है। यह आश्चर्यजनक है कि यह कितने समय के आसपास है, हम सभी विवरण नहीं जानते हैं। यह बहुत अंधेरे में था, चलो देखते हैं क्या होता है।"

बॉथम ने लोगों से थोड़ा धैर्य दिखाने का आग्रह किया, क्योंकि उन्हें उम्मीद थी कि कुछ हफ़्ते में चीजें बेहतर हो जाएंगी। उन्होंने कहा है, "मुझे लगता है कि लोग बहुत अच्छी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि वे अगले कुछ हफ्तों में थोड़ा और धैर्य दिखाएंगे, इसलिए हम ऐसी स्थिति में पहुंच सकते हैं जहां हर कोई घूम सकता है।" जबकि इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच 8 जुलाई से शुरू होने वाली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज कोरोना वायरस के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की बहाली को चिह्नित करेगी, लेकिन क्लब क्रिकेट अभी भी बंद है।

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने पिछले मंगलवार को क्रिकेट गेंद को 'बीमारी का एक प्राकृतिक वेक्टर' कहा था और मनोरंजक क्रिकेट पर प्रतिबंध को बरकरार रखने के उनके फैसले को इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन सहित पूर्व क्रिकेटरों ने गलत बताया था। बॉथम को इस बात का जरा भी संदेह नहीं है कि खेल जल्द ही शुरू हो जाएगा, क्योंकि क्रिकेट एक ऐसा खेल है जिसमें सामाजिक दूरी संभव है।

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस