बेंगलुरू, प्रेट्र। Ind vs SA: भारतीय क्रिकेट टीम के सीनियर ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने युवा खिलाड़ियों को लेकर अपनी सोच जाहिर की है। धवन ने आशा जाहिर की है कि टीम मैनेजमेंट युवा खिलाड़ियों को पर्याप्त मौके देगी जिससे कि वो खुद को साबित कर सकें और ऑस्ट्रेलिया में अगले वर्ष होने वाले टी20 विश्व कप टीम में अपनी जगह बना सकें। हालांकि टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि टीम में शामिल किए गए युवाओं को खुद को साबित करने के लिए चार से पांच मौके ही मिलेंगे। 

धवन ने कहा कि युवा खिलाड़ियों को आजमाने के लिए मौके मिलने ही चाहिए। अगर कोई खिलाड़ी टीम में नया आता है तो वो खुद को साबित करने की कोशिश करता है। युवा खिलाड़ी ऐसे मौकों को दोनों हाथों से लेना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि सीनियर खिलाड़ी हमेशा ही युवा टैलेंट जैसे कि श्रेयस अय्यर और रिषभ पंत की मदद के लिए तैयार रहते हैं जो इस वक्त कुछ अलग फॉर्म में बल्लेबाजी कर रहे हैं। 

धवन ने कहा कि किसी भी वक्त कोई भी युवा बल्लेबाज कुछ भी पूछने के लिए हमारे पास आ सकता है। हम हमेशा इन युवा खिलाड़ियों की मदद के लिए तैयार रहते हैं और हमेशा उनके साथ हैं। धवन ने कहा कि युवा खिलाड़ी अगर हमारे पास कुछ पूछने आते है तो हम पूरी तरह से उनकी मदद को तैयार रहते हैं। हमारी कोशिश होती है कि वो हमारे सामने नवर्स ना हों। उन्होंने कहा कि टीम का कोई सीनियर खिलाड़ी जैसे कि मैं, विराट या फिर रोहित बल्लेबाजी कर रहे होते हैं और अगर साथ में कोई युवा हो तो हम उनसे लगातार बात करते हैं। इसके युवा खिलाड़ी दवाब महसूस नहीं करते हैं। 

धवन ने विश्वास जताया कि युवा खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करके अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खुद को साबित करने में जरूर सफल होंगे। साउथ अफ्रीका के खिलाफ चल रहे सीरीज में भी कुछ युवाओं के पास खुद तो साबित करने का शानदार मौका है। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप