नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। 23 अक्टूबर को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर हुए रोमांचक मुकाबले में जब भारत को जीत के लिए 8 गेंदों पर 28 रन की दरकार थी। उस वक्त विराट कोहली ने हारिस रऊफ की गेंद पर दो छक्के लगाए थे। उन दो छक्कों की गूंज न केवल उस मैच में बल्कि ताउम्र हारिस रऊफ के मन से नहीं जाएगी।

अब उन्होंने पहली बार उन दो छक्कों पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। हारिस रऊफ का मानना ​​है कि अक्टूबर में टी20 वर्ल्ड कप मैच में पाकिस्तान के खिलाफ भारत की रोमांचक जीत में उन दो छक्कों को विराट कोहली के अलावा वर्ल्ड क्रिकेट का कोई भी खिलाड़ी उन्हें नहीं मार सकता था।

एक वेबसाइट से बात करते हुए उन्होंने कहा कि "यदि हार्दिक पांड्या और दिनेश कार्तिक उन्हें इस तरह से मारते तो उन्हें दुख होता।" उन्होंने आगे कहा कि "मुझे कोई आइडिया नहीं था कि वह डाउन द ग्राउंड ऑफ द लेंथ मुझे मार सकते हैं। जब उन्होंने मुझे मारा तो वह उनकी क्लास थी। मेरी योजना बिल्कुल ठीक थी शॉट में क्लास थी।"

उन्होंने आगे कहा कि "देखो भारत को 12 गेंद पर 31 रन की दरकार थी। मैंने पहली चार गेंद पर केवल 3 रन दिए थे। मैं जानता था कि आखिरी ओवर नवाज डालने वाला है। वह एक स्पिनर है। मैं कोशिश कर रहा था कि कम से कम चार बाउंड्री और 20 रन उसके लिए रहे।"

आखिरी ओवर में बने थे 16 रन

हारिस रऊफ की आखिरी दो गेंद पर छक्का लगाने के बाद भारत ने नवाज की आखिरी ओवर में 16 रन बनाकर रोमांचक जीत हासिल की थी। कोहली ने उस मैच में 52 गेंद पर 83 रन की कभी न भूलने वाली पारी खेली थी। भारत के लिए वह टी20 वर्ल्ड कप का पहला मैच था, और उसने जीत के साथ शुरुआत की थी। 

यह भी पढ़ें- Vijay Hazare Final Live Streaming: सौराष्ट्र और महाराष्ट्र में ट्रॉफी की जंग, कब और कहां देखें मुकाबला

पाकिस्तान के गेंदबाज को सता रही है संजू सैमसन की चिंता बोले- औसत क्रिकेटर सा हो रहा व्यवहार

Edited By: Sameer Thakur

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट