मुंबई, पीटीआइ। India vs New Zealand Test Series: भारतीय टीम के गेंदबाजों ने पिछले साल और इस साल की शुरुआत में जो विपक्षी टीमों पर कहर बरपाया उसके बाद भारत के गेंदबाजी आक्रमण को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण कहा गया। वहीं, न्यूजीलैंड के खिलाफ एक टेस्ट और 3 वनडे मैच हारने के बाद इसी गेंदबाजी यूनिट पर सवाल खड़े हो गए। हालांकि, पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा का भारतीय गेंदबाजी इकाई पर भरोसा कायम है। उन्होंने बुधवार को कहा कि न्यूजीलैंड के खिलाफ शुरुआती टेस्ट में मिली 10 विकेट की हार के बावजूद यह 'विश्व स्तरीय' आक्रमण बना रहेगा।

मैकग्रा ने कहा, 'मुझे अब भी भारतीय गेंदबाजी आक्रमण पर पूरा भरोसा है। उन्हें पिछले कुछ समय से चोटों से जूझना पड़ रहा है। इशांत शर्मा वापसी कर रहे हैं और वह पांच विकेट चटकाने में सफल रहे। जसप्रीत बुमराह को भी चोटें लगी थीं और वह वापसी कर रहे हैं। इसलिए, मुझे लगता है कि भारतीय गेंदबाजी आक्रमण विश्व स्तरीय है और इसमें कोई शक नहीं है। मुझे गेंदबाजी आक्रमण से कोई दिक्कत नहीं है, आप एक रात में फॉर्म नहीं गंवा देते। यह उन चीजों में शामिल रहा होगा, जिसमें टॉस काफी अंतर पैदा करता है, लेकिन आपको फिर भी विकेट चटकाने और रन जुटाने होते हैं।'

भारत की राह मुश्किल होगी

मैकग्रा ने कहा, 'ऑस्ट्रेलिया अच्छा क्रिकेट खेल रहा है। स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर दोनों अच्छा खेल रहे हैं। हमने देखा कि वार्नर क्या करने में सक्षम हैं। वार्नर जैसे बल्लेबाज के वापस आने और स्टीव स्मिथ जैसे स्तरीय बल्लेबाज के होने से चीजें बिलकुल अलग हो जाती हैं।' स्मिथ और वार्नर ने पिछले साल विश्व कप से पहले राष्ट्रीय टीम में वापसी की और तब से अच्छी फॉर्म में चल रहे हैं। भारत को इस साल चार टेस्ट की सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया का दौरा करना है। मैकग्रा ने कहा, 'भारत के लिए चीजें मुश्किल होंगी। मैं ऐसा नहीं कह रहा कि वे अच्छा प्रदर्शन नहीं करेंगे। उनके अंदर अब ऑस्ट्रेलियाई हालात में खेलने का आत्मविश्वास है और उन्हें पता है कि ऐसा कैसे करना है। उन्होंने ऐसा किया है और वे सफल रहे हैं। काफी सकारात्मक पक्ष हैं और मुझे लगता है कि यह निश्चित तौर पर अच्छी सीरीज होगी।'

हार्दिक की तारीफ

मैकग्रा ने भारत के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की भी तारीफ की, जो कमर की चोट की सर्जरी के कारण पांच महीने बाहर रहने के बाद डीवाई पाटिल टी-20 टूर्नामेंट के साथ वापसी कर रहे हैं। इंग्लैंड के एंड्रयू फ्लिंटॉफ के साथ पांड्या की तुलना करते हुए मैकग्रा ने कहा, 'मुझे हार्दिक पसंद है, उनकी गेंदबाजी का तरीका, उसकी बल्लेबाजी, उसका रवैया। उसके जैसा खिलाड़ी होना अच्छा होता है।'

टेस्ट डे-नाइट हों, लेकिन चार दिवसीय नहीं

मैकग्रा पांच दिवसीय प्रारूप में छेड़छाड़ के पक्ष में नहीं हैं। उन्होंने कहा कि दर्शकों को लुभाने के लिए डे-नाइट टेस्ट मैच आगे बढ़ने का तरीका है। मैकग्रा ने कहा, 'मेरे लिए टेस्ट क्रिकेट सबसे अहम है और हमें खेल को तरोताजा बनाए रखना होगा ताकि लोग इसका लुत्फ उठाएं। टी-20 ने दुनिया को हिलाकर रख दिया है, यह ज्यादा लोगों को क्रिकेट की ओर ला रहा है और यह शानदार है। उम्मीद है कि इससे टेस्ट क्रिकेट को फायदा होगा। हमें टेस्ट क्रिकेट को बनाए रखना होगा और इसे आगे बढ़ाना होगा और लोग इसे देखने आते रहें। मेरा मानना है कि इसका तरीका डे-नाइट टेस्ट क्रिकेट होगा। मैं इसका बहुत बड़ा प्रशंसक हूं। मैं हालांकि चार दिवसीय टेस्ट का बड़ा प्रशंसक नहीं हूं। मैं पंरपरावादी हूं। पांच दिवसीय मेरी पंसद है।'

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस