Move to Jagran APP

गौतम गंभीर के इंटरव्यू में हो गई गड़बड़, अब कोच बनना पक्का नहीं? पूर्व ओपनर के बयान ने खुद उठा दिए सवाल

टीम इंडिया के मौजूदा कोच राहुल द्रविड़ का कार्यकाल टी20 वर्ल्ड कप 2024 के बाद खत्म हो रहा है। द्रविड़ के रिप्लेसमेंट के लिए खोज शुरू हो गई है और बीसीसीआई की सीएसी ने इंटरव्यू भी लिए हैं. इस रेस में गंभीर सबसे आगे हैं लेकिन अब गंभीर के एक बयान ने ही उनके कोच बनने पर सवाल खड़ा कर दिया है।

By Agency Edited By: Abhishek Upadhyay Fri, 21 Jun 2024 11:15 PM (IST)
गौतम गंभीर टीम इंडिया के अगले कोच की रेस में सबसे आगे माने जा रहे हैं

 पीटीआई, कोलकाता: पूर्व प्रारंभिक बल्लेबाज गौतम गंभीर ने भारतीय क्रिकेट टीम के अगले मुख्य कोच बनने के सवाल पर शुक्रवार को कहा कि वह इतना आगे नहीं देखते। गंभीर ने इस हफ्ते के शुरू में बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति को वर्चुअल साक्षात्कार दिया था और उन्हें भारत के अगले मुख्य कोच के तौर पर प्रबल दावेदार माना जा रहा है।

वर्तमान मुख्य कोच राहुल द्रविड़ का कार्यकाल टी20 विश्व कप के बाद खत्म हो जाएगा। गंभीर से जब मुख्य कोच बनने की संभावना के बारे में पूछा गया तो वह चुप रहे। उन्होंने बस इतना कहा, 'मैं इतना आगे नहीं देखता हूं। आप मुझसे सभी मुश्किल सवाल पूछ रहे हैं।'

यह भी पढ़ें- SA vs ENG: पहले हैरतअंगेज कैच, फिर चीते सी फुर्ती दिखा किया गजब रन आउट, जोस बटलर ने साउथ अफ्रीका के उड़ाए होश

जवाब देना मुश्किल

गंभीर इंडियन चैम्बर ऑफ कॉमर्स के इवेंट में शारिक हुए थे और इसी दौरान उन्होंने टीम इंडिया के हेड कोच को लेकर अपनी बात रखी। गंभीर ने कहा, "मेरे लिए इस समय ये कहना काफी मुश्किल है। मैं अभी सिर्फ इतना कह सकता हूं कि मैं यहां खुश हूं। मैंने हाल ही में एक शानदार सफर का अंत किया है। इसका लुत्फ लेते हैं। मैं इस समय काफी खुश हूं।"

गंभीर ने अपनी कोचिंग शैली के बारे में बात करते हुए कहा कि वह टीम को पहले रखते हैं। उन्होंने कहा, "अगर आपकी इंटेंट टीम को आगे रखने की है तो चीजें आपके हक में रहेंगी। आज नहीं तो कल, कल नहीं तो परसों कभी न कभी ऐसा होगा।" गंभीर ने कहा कि उनका काम किसी एक खिलाड़ी से अच्छा प्रदर्शन करवाना नहीं है। उन्होंने कहा, "मेरा काम एक खिलाड़ी से परफॉर्म कराना नहीं है। मेरे काम एक मेंटॉर के तौर पर केकआर को जिताना था।"

इंटरव्यू में क्या हुआ?

गंभीर का इस समय ये कहना कि वह हेड कोच को लेकर ज्यादा दूर की नहीं सोच रहे हैं, ये कई सवाल खड़े करता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गंभीर के साथ डब्ल्यूवी रमन ने टीम इंडिया के कोच पद के लिए इंटरव्यू दिया था और उनका प्रेजेंटेशन सीएसी को काफी पसंद आया था। अब गंभीर का ऐसा बयान सवाल खड़े करता है कि क्या गंभीर अभी भी कोच की रेस में सबसे आगे हैं?

यह भी पढ़ें- क्विंटन डिकॉक के तूफान ने उतारा जोफ्रा आर्चर का जोश, उड़ा दिए परखच्चे, फिर भी साउथ अफ्रीका ने कर दी बड़ी गलती