नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के सीनियर बल्लेबाज गौतम गंभीर ने जेम्स एंडरसन की कही बात पर टीम इंडिया के कप्तान विराट को सलाह दी है कि उन्हें कुछ भी साबित करने की जरूरत नहीं है। आपको बता दें कि विराट ने कहा था कि अगर भारतीय टीम जीत रही है तो उनका व्यक्तिगत फॉर्म उनके या फिर टीम के लिए कोई मायने नहीं रखता। इस पर एंडरसन ने उन्हें झूठा बताया था और कहा था कि वो इंग्लैंड में अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं क्योंकि पिछले टेस्ट सीरीज में वो फेल हो गए थे। 

गंभीर ने एंडरसन के इस बात का जबाव देते हुए कहा कि इंग्लैंड के खिलाफ विराट बेहतरीन प्रदर्शन करेंगे और साबित कर देंगे कि वो इस वक्त दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक हैं। गंभीर ने कहा कि विराट को अतिरिक्त दबाव लेने की जरूरत नहीं है और ना ही पिछले इंग्लैंड दौरे के बारे में ज्यादा सोचने की जरूरत है। सबसे अहम बात ये है कि उन्होंने पूरी दुनिया में खुद को साबित किया है और इस वक्त वो दुनिया के टॉप तीन बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक हैं। विराट ने अपनी कप्तानी में हमेशा ही बेहतरीन प्रदर्शन करके टीम को लीड किया है। 

गंभीर ने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग का उदाहरण देते हुए कहा कि भारत में उन्होंने सिर्फ एक शतक लगाया था लेकिन यहां के क्रिकेट फैंस भी उन्हें महान खिलाड़ी मानते हैं। आप किसी खिलाड़ी को सिर्फ एक टूर के आधार पर उसका आकलन नहीं कर सकते। विराट ने हर अलग परिस्थिति में खुद को साबित किया है और उन्हें इंग्लैंड टूर पर खुद को साबित करना है इस सोच के साथ आगे नहीं बढ़ना चाहिए। विराट ने इंग्लैंड में अब तक सिर्फ एक टेस्ट सीरीज खेली है और उस दौरान वो एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड और क्रिस वोक्स जैसे गेंदबाजों के सामने कुछ खास नहीं कर पाए थे। उसके बाद से विराट ने एक खिलाड़ी के तौर पर खुद में काफी बदलाव किए हैं। सबसे अहम बात ये है कि पहले वो जिन जगहों पर कमजोर थे वहां उन्होंने काम किया और अपनी बल्लेबाजी के तकनीक में बदलाव करते हुए रन बना रहे हैं। 

इसी वर्ष दक्षिण अफ्रीका दौरे पर सेंचुरियन में जहां भारतीय बल्लेबाज संघर्ष कर रहे थे वहां उन्होंने शतक लगाया। ये साबित करता है कि एक बल्लेबाज के तौर पर वो कितन परिपक्व हो चुके हैं।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern