कराची। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और कोच जावेद मियांदाद ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से साफ कहा है कि निकट भविष्य में भारत के साथ पाकिस्तान का क्रिकेट सीरीज कराने का इरादा छोड़ देना चाहिए और उन्हें देश में क्रिकेट को बढ़ावा देने पर ध्यान देना चाहिए। मियांदाद ने कहा कि भारत हमारे साथ नहीं खेलना चाहता और अगर वो हमारे साथ नहीं खेलेंगे तो हमारा क्रिकेट खत्म नहीं हो जाएगा। हमें अब इससे आगे निकलना चाहिए और इस बात को भूल जाना चाहिए। 

पाकिस्तान के लिए 124 टेस्ट मैच खेलने वाले मियांदाद ने कहा कि पीसीबी को बीसीसीआइ के सामने दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सीरीज के लिए गिड़गिड़ाना नहीं चाहिए। अगर लगभग पिछले 10 वर्षों से उन्होंने हमारे साथ नहीं खेला है तो क्या इससे हमारा क्रिकेट खत्म हो गया है क्या नहीं हमने अच्छा ही किया है। हमने चैंपियंस ट्रॉफी जीता और ये सबसे अच्छा उदाहरण है। पाकिस्तान में क्रिकेट खत्म नहीं हो सकता। वर्ष 2009 से हमारी धरती पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं हो रहा है फिर भी हम खेल रहे हैं। 

भारत और पाकिस्तान के बीच वर्ष 2008 में हुए मुंबई आतंकी हमले के बाद कोई भी क्रिकेट सीरीज नहीं खेली गई है। मियांदाद ने पीसीबी से आग्रह किया कि उन्हें अपने इनकम को सही तरीके से मैनेज करने की जरूरत है। आज पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की वित्तीय स्थिति काफी अच्छी है और उसे सही तरीके से मैनेज करने की आवश्यकता है। पीसीबी को अपने जरूरत की खर्च में कटौती करने की जरूरत नहीं है। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप