नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली इस समय इंटरनेशनल क्रिकेट में जैसा प्रदर्शन कर रहे हैं उससे हर कोई उनका कायल है। देसी हो या विदेशी हर पूर्व क्रिकेटर विराट की तारीफ करता नहीं थकता।

अब तो भारतीय क्रिकेट के सबसे बड़े दुश्मन यानी ग्रेग चैपल ने भी विराट कोहली को इस युग के महानतम खिलाड़ियों में शामिल कर लिया। भारतीय टीम के पूर्व कोच और टीम इंडिया के बीच भले ही छत्तीस का आंकड़ा हो लेकिन इसके बावजूद चैपल ने कहा कि विराट इस समय दुनिया के नंबर वन बल्लेबाज है।

चैपल ने कहा कि विराट ने नॉटिंघम में जिस तरह अपनी कप्तानी से सभी को प्रभावित किया, उससे साफ है कि वह बल्ले के साथ कप्तानी में भी सफल है। विराट ने तीसरे टेस्ट में इंग्लैंड को मात देकर भारत के दूसरे सफलतम कप्तान बन गए हैं। चैपल ने कहा कि कोहली ने खुद को साबित किया है। वह एक सफलतम बल्लेबाज है। आप कोहली की बल्लेबाजी और आक्रामक कप्तानी की तारीफ करे बिना नहीं रह सकते।

तीसरे टेस्ट में भारतीय टीम की जीत के बारे में चैपल ने कहा कि विराट और रहाणे के बीच पहली पारी में हुई 159 रन की साझेदारी उस टेस्ट का टर्निंग पॉइंट थी। अगर उस समय वह साझेदारी नहीं होती तो भारत यहां भी पिछड़ सकता था। विराट कोहली अब तक इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 440 रन बना चुके हैं। साल 2014 के फ्लॉप शो के बाद विराट ने इंग्लैंड के हर गेंदबाज को पानी पिलाया। इस सीरीज में विराट 2 शतक और 2 अर्धशतक लगा चुके हैं।

विराट रिकॉर्ड तोड़ कोहली

तीसरे टेस्ट में टीम इंडिया ने जीत हासिल की तो उसकी बड़ी वजह कोहली का प्रदर्शन था। कोहली ने नॉटिंघम टेस्ट की पहली पारी में 97 और दूसरी पारी में 103 रन बनाए थे। इसी के साथ उन्होंने एक ऐसा कारमाना किया, जिसे ऑस्ट्रेलिया के डॉन ब्रैडमैन भी नहीं कर पाए। दरअसल कोहली ने 7वीं बार कप्तानी करते हुए एक मैच में 200 या उससे ज्यादा रन बनाए और उनमे टीम इंडिया को जीत मिली है।

मतलब कप्तान रहते हुए कोहली ने अगर किसी मैच में 200 या उससे ज्यादा रन बनाए हो और उसमे टीम इंडिया को जीत मिली। इस मामले में उन्होंने ब्रैडमैन को पीछे छोड़ा। सर डॉन ब्रैडमैन और रिकी पोटिंग ने ये कारनामा 6 बार किया था लेकिन अब कोहली ने इन दोनों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Lakshya Sharma