नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। टी20 वर्ल्ड कप में के लिए टीम इंडिया में बतौर फीनिशर पहले ही अपनी जगह बना चुके विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने पूर्व कोच रवि शास्त्री को लेकर कुछ खुलासे किए हैं और बताया है कि वह खिलाड़ियों के साथ कैसे थे?  उन्होंने बताया कि अपने कार्यकाल के दौरान रवि शास्त्री दो चीजों को लेकर खिलाड़ियों की सराहना कभी नहीं करते थे। टीम इंडिया ने रवि शास्त्री के कोचिंग के दौरान कई उपलब्धियों को हासिल किया है।

टीम ने उनके कोचिंग में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो टेस्ट सीरीज जीती। इसके अलावा टीम पहली बार वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने में कामयाब रही। उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान एक नई एटीट्यूड की भी शुरुआत की।

क्रिकबज से बात करते हुए उन्होंने कहा कि उनके अंदर सहनशीलता की कमी थी। उन खिलाड़ियों के लिए जो ठीक से बल्लेबाजी नहीं करते थे। इतना ही नहीं जब कोई खिलाड़ी मैच में उस तरह नहीं खेल पाता था जैसा कि उसने नेट्स में कोशिश की थी तब भी वह नाराज होते थे।

कार्तिक ने कहा कि "वह किसी ऐसे व्यक्ति के लिए बहुत कम सहनशीलता रखते थे जो एक निश्चित गति से बल्लेबाजी नहीं करता था। यदि कोई खिलाड़ी नेट्स से अलग मैच में बल्लेबाजी करता तो वह उसकी सराहना नहीं करते थे। उन्हें ठीक-ठीक पता था कि वह टीम से क्या चाहते हैं, असफलताओं के लिए उनकी सहनशीलता बहुत कम थी। वह हमेशा लोगों को बहुत अच्छा करने के लिए प्रेरित करते थे।"

आपको बता दें कि आइपीएल 2022 में दिनेश कार्तिक के शानदार प्रदर्शन के बाद उन्हें टीम इंडिया में बतौर फीनिशर शामिल किया है। उसके बाद उन्हें जब भी मौका मिला है उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की है। यही कारण है कि अभी से टी20 वर्ल्ड कप टीम में उनकी जगह तय मानी जा रही है। 

Edited By: Sameer Thakur