नई दिल्ली, आइएएनएस। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2013) में स्पॉट फिक्सिंग के दोषी पाए गए तेज गेंदबाज शांताकुमारन श्रीसंत से आजीवन बैन हट गया है। इसके बाद श्रीसंत के तमाम बयान मीडिया की सुर्खियां बने हैं। इन्हीं में से श्रीसंत का एक बयान वो था जिसमें उन्होंने कहा था कि वे टीम इंडिया से विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक की वजह से बाहर हुए थे। अब श्रीसंत के इसी बयान पर श्रीसंत की प्रतिक्रिया भी आई है। 

दरअसल, श्रीसंत ने एक इंटरव्यू में कहा था कि दिनेश कार्तिक ने साल 2013 में उनकी शिकायत उस समय बोर्ड के प्रमुख एन श्रीनिवासन से की थी। श्रीसंत ने कहा है कि कार्तिक ने एन. श्रीनिवासन को कहा था कि मैंने उनके लिए अपशब्द बोले थे। श्रीसंत के मुताबिक ये उन दिनों की बात है जब चैंपियंस ट्रॉफी के भारतीय टीम का ऐलान होना था और बाद में उन्हें टीम में शामिल नहीं किया गया।

कार्तिक ने कराया बाहर- श्रीसंत

श्रीसंत ने एक अखबार से बात करते हुए कहा था,"चैंपियंस ट्रॉफी 2013 के लिए टीम में मेरा नाम कार्तिक की शिकायत की वजह से नहीं था। डीके (दिनेश कार्तिक) अगर आप इसे पढ़ रहे हैं तो जान लीजिए जो आपने मेरे और मेरे परिवार के साथ किया वह कभी माफ करने लायक नहीं है। अगले साल केरल को तमिलनाडु से खेलना है और आप जानते हो कि क्या होने वाला है, भगवान आपका भला करे।"

बयान पर टिप्पणी करना बेवकूफी

इसी बयान पर दिनेश कार्तिक ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। कार्तिक ने कहा, "हां मैंने श्रीसंत की इन बयानों के बारे में सुना है कि भारतीय टीम से उनके बाहर होने के लिए मैं जिम्मेदार था। ये सभी आरोप बेवकूफी भरे हैं और ऐसे आरोपों पर प्रतिक्रिया देना भी बेवकूफी भरा होगा।" बता दें कि दिनेश कार्तिक इन दिनों विजय हजारे ट्रॉफी में तमिलनाडु की टीम का नेतृत्व कर रहे हैं, जो सेमीफाइनल में पहुंच चुकी है। 

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप