नई दिल्ली, जेएनएन। टीम इंडिया को पिछले साल वनडे वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के हाथों हार मिली थी, लेकिन उस मैच के लगभग एक साल के बाद काफी विवाद खड़ा हो गया है। दरअसल उस वक्त स्थिति ऐसी थी कि अगर भारत वो मैच जीत जाता तो पाकिस्तान वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई कर जाता, लेकिन भारत को हार मिली और ऐसा नहीं हो पाया। 

इस मैच को लेकर पूर्व पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने साफ तौर पर कहा कि भारत ने जान-बूझकर मैच को गंवाया। वैसे ये विवाद तब सामने आया जब बेन स्टोक्स ने अपनी किताब ऑन फायर में लिखा कि भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ मैच जीतने की कोशिश ही नहीं की। स्टोक्स ने विराट, रोहित व धौनी की बल्लेबाजी पर भी सवाल उठाए। 

इन सारी बातों के सामने आने के बाद पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर मुश्ताक अहमद ने अब कहा है कि उस मैच के वक्त वेस्टइंडीज के क्रिकेटर क्रिस गेल, आंद्रे रसेल व जेसन होल्डर ने मुझसे कहा कि भारत ये नहीं चाहता है कि पाकिस्तान फाइनल फोर का हिस्सा बने। मुश्ताक अहमद उस वक्त कैरेबियाई टीम के सहायक कोच थे और वर्ल्ड कप में टीम के साथ ही थे। उन्होंने कहा कि मैं पिछले साल वेस्टइंडीज टीम के साथ काम कर रहा था।जब भारत को इंग्लैंड के हाथों हार मिली तब होल्डर, गेल व रसेल ने मुझसे कहा की मुशी, भारत नहीं चाहता कि पाकिस्तान सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करे।   

 

इस मैच के बारे में पाकिस्तान के पू्र्व ऑलराउंडर अब्दुल रज्जाक ने भी कहा था कि धौनी चौके व छक्के लगा सकते थे, लेकिन वो सिर्फ गेंद को रोक रहे थे। वहीं दूसरी तरफ वेस्टइंडीज के पू्र्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने धौनी व टीम इंडिया का पक्ष लेते हुए कहा था कि ऐसा लग नहीं रहा था कि वो इंग्लैंड के हाथों हारना चाहते थे। उन्होंने कहा था कि आज लोग फेमस होने के लिए अपनी किताब में कुछ भी लिख देते हैं। 

 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस