नई दिल्ली, जेएनएन। चेन्नई सुपर किंग्स की हालत इस समय आइपीएल 2020 में काफी खराब है और 10 में से सिर्फ तीन मैच जीतकर 6 अंक के साथ ये टीम प्वाइंट टेबल में सबसे नीचे हैं। इसके बाद इस टीम की प्लेऑफ में पहुंचने की संभावना लगभग खत्म सी हो गई है और ऐसा सोचना है न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के पूर्व ऑलराउंडर स्कॉट स्टाइरिश का। 

अंक तालिका के गणित के मुताबिक भी सीएसके का अंतिम चार में पहुंचना आसान तो नहीं लग रहा है। अगर वो अगले चार मैच जीत भी जाते हैं तो इस टीम के कुल 14 अंक हो जाएंगे। दिल्ली और बैंगलोर के पहले ही 14 अंक हैं और मुंबई 12 अंक के साथ तीसरे नंबर पर हैं। कुछ अन्य टीमें भी अंतिम चार की होड़ में हैं जिनकी स्थिति सीएसके से काफी बेहतर है तो इस हालात में धौनी के लिेए मायूसी ज्यादा नजर आ रही है। 

एक क्रिकेट शो में 45 साल के स्टाइयरिश ने कहा कि, मुझे ये बात कहने में तकलीफ हो रही है, लेकिन मुझे नहीं लगता की सीएसके प्लेऑफ में पहुंच पाएगी। मुझे ऐसा लगता है कि वो एक तरफ हैं और टूर्नामेंट से बाहर हो चुके हैं। सीएसके कोच फ्लेमिंग ने भी कहा था कि, पिछले तीन सीजन से खिलाड़ियों के एक ही ग्रुप के साथ खेलना जो 30 साल से ज्यादा की उम्र के हैं और युवाओं को मौके नहीं देना टीम के लिए जोखिम से भरा रहा। अब स्टायरिश ने प्लेमिंग की बात का समर्थन किया है। 

उन्होंने कहा कि आप फ्लेमिंग की बातों के सुन सकते हैं  और उनका मानना है कि टीम का सफर पूरा हो चुका है। एक ऐसी उम्रदराज टीम जिसके बारे में हम पिछले तीन साल से बात कर रहे हैं और ऐसा होता है कि किसी ना किसी स्तर पर प्रदर्शन में फर्क आता ही है जब आपकी उम्र बढ़ती है तो ये वही साल है। स्टाइरिश ने कहा कि पिछले साल इस टीम का प्रदर्शन लाजवाब था, लेकिन उस टीम में कई मैच विनर थे। पर अब फॉफ डुप्लेसिस के अलावा दीपक चाहर ही नजर आ रहे हैं और कोई नजर ही नहीं आ रहा है। 

Aus-vs-Ind

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस