वेलिंग्टन, प्रेट्र। वनडे सीरीज के दौरान न्यूजीलैंड की टीम के खिलाफ दुनिया के बेहतरीन तेज गेंदबाजों में से एक जसप्रीत बुमराह कीवी टीम के खिलाफ एक भी विकेट नहीं ले पाए। इस वनडे सीरीज के दौरान न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने बुमराह का सामना बेहतरीन तरीके से किया। अब कीवी टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शेन बांड ने कहा है कि उनकी टीम के बल्लेबाजों ने बुमराह का सामना पारंपरकि तरीके से किया और इससे दूसरे टीमें भी सीखेंगी। 

पीटीआइ से बात करते हुए शेन बांड ने कहा कि जब आपको पास बुमरहा जैसे गेंदबाजों हों तो आपको उनसे काफी उम्मीदें रहती हैं। मुझे लगता है कि न्यूजीलैंड ने उन्हें सबसे बड़ा खतरा माना और उनका सामना शानदार तरीके से किया। उन्होंने पारंपरिक तरीके से उनका सामना किया और इसका फायदा न्यूजीलैंड को मिला। मुझे लगता है कि अब हर टीम उनके खिलाफ बल्लेबाजी के दौरान ऐसा ही रुख अपनाएगी। 

उन्होंने कहा कि बुमराह को विकेट नहीं मिला, लेकिन उनकी गेंदबाजी अच्छी रही। बांड आइपीएल में मुंबई इंडियंस के गेंदबाजी कोच के तौर पर समय बिता चुके हैं और उन्होंने कहा कि वो दो मैचों की टेस्ट सीरीज के दौरान काफी अच्छा प्रभाव छोड़ेंगे। उन्हें इस सीरीज से पहले ज्यादा मैच खेलने का मौका नहीं मिला है लेकिन टेस्ट सीरीज में वो अलग अंदाज में दिखेंगे और मुझे इसमें कोई संदेह नहीं है। 

न्यूजीलैंड को उनके घरेलू मैदान में हराना काफी मुश्किल होता है और बांड को उम्मीद है कि विलियमसन पांच तेज गेंदबाजों के साथ मैच में जाएंगे। उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड की विकेट के बारे में सबसे बड़ी बात यह है कि यहां गेंद स्पिन नहीं होती। जो भी टॉस जीतता है वह पहले गेंदबाजी करना चाहता है क्योंकि पहले दिन पिच से सबसे ज्यादा मदद मिलती है। उन्होंने कहा कि अगर न्यूजीलैंड की टीम बिना किसी स्पिनर के मैच में उतरे तो भी मुझे आश्चर्य नहीं होगा। मैं भी स्पिनर को टीम में नहीं रखना चाहूंगा क्योंकि उसका काम सिर्फ रनों को रोकना होता है। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस