नई दिल्ली, जेएनएन। बड़ौदा के क्रिकेटर दीपक हुड्डा को इस पूरे घरेलू सत्र के लिए बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन (BCA) द्वारा निलंबित कर दिया गया है। कुछ सदस्यों द्वारा विरोध के बावजूद गुरुवार (21 जनवरी) को शीर्ष परिषद ने दीपक हुड्डा को सस्पेंड कर दिया है। हुड्डा ने कप्तान क्रुणाल पांड्या के साथ विवाद के बाद सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट की पूर्व संध्या पर टीम से बाहर जाकर बीसीए को नाराज कर दिया था।

बीसीए के प्रेस एंड पब्लिसिटी कमेटी के चेयरमैन सत्यजीत गायकवाड़ ने एक अंग्रेजी अखबार को बताया, "शीर्ष परिषद ने फैसला किया कि दीपक हुड्डा को मौजूदा घरेलू सत्र के लिए बड़ौदा टीम का प्रतिनिधित्व करने के लिए अनुमति नहीं है। टीम मैनेजर और कोच से इस घटना (क्रुणाल और दीपक के बीच हुए विवाद) के बारे में रिपोर्ट के साथ-साथ दीपक हुड्डा के साथ बात करते हुए विचार करने के बाद यह निर्णय लिया गया है।"

दीपक हुड्डा मौजूदा सैयद मुश्ताक अली टी 20 टूर्नामेंट के साथ-साथ सीजन में किसी भी आगामी घरेलू प्रतियोगिता में भाग नहीं ले पाएंगे। गायकवाड़ ने बताया, "हुड्डा 2021-22 सीजन के लिए फिर से बड़ौदा के लिए खेल सकते हैं।" बीसीए के संयुक्त सचिव पराग पटेल ने कहा, "हुड्डा ने प्रबंधन के साथ चर्चा किए बिना टीम से बाहर जाकर गलत काम किया, लेकिन पूरे सत्र के लिए उन पर प्रतिबंध लगाना अनावश्यक था। उन्हें उनके कृत्य के लिए फटकार लगाई जा सकती थी और फिर खेलने की अनुमति दी जानी चाहिए थी।"

इस घरेलू सीजन में सैयद मुश्ताक अली टी 20 प्रतियोगिता के लिए बड़ौदा के उप-कप्तान के रूप में नियुक्त किए गए दाएं हाथ के बल्लेबाज दीपक हुड्डा ने 9 जनवरी को पांड्या के साथ मौखिक रूप से विवाद के बाद टीम को अचानक छोड़ दिया और होटल से बाहर निकल गए थे। दीपक हुड्डा ने बाद में बीसीए प्रबंधन को एक ईमेल भेज दिया और पांड्या पर अभ्यास सत्र के दौरान गाली देने का आरोप लगाया था।

Ind-vs-End

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप