नई दिल्ली, जेएनएन। बाबर आजम को जब से पाकिस्तान वनडे क्रिकेट टीम का कप्तान बनाया गया है तब से उन्हें लेकर लगातार बातें की जा रही हैं। पाकिस्तानी पूर्व दिग्गजों ने उन्हें कई तरह की सलाह दे डाली है और अब पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान रमीज राजा ने कहा है कि उन्हें विराट कोहली और केन विलियमसन से कप्तानी सीखनी चाहिए। ये दोनों खिलाड़ी अपनी-अपनी टीमों के तीनों फॉर्मेड में लीड करते हैं। 

बाबर आजम पाकिस्तान टी20 टीम के कप्तान पहले से ही हैं और अब वो वनडे के कप्तान भी बन गए हैं। वहीं कहा जा रहा है कि अजहर अली के रिटायर होने के बाद उन्हें टेस्ट कप्तानी भी मिल जाएगी। बाबर आजम का औसत उजले गेंद के क्रिकेट में 50 से ज्यादा है और वो इस वक्त पाकिस्तान के बेस्ट बैट्समैन हैं। उनकी बल्लेबाजी की तुलना विराट कोहली, स्टीव स्मिथ, जो रूट व केन के साथ की जाती है। अब बाबर की असली परीक्षा वनडे कप्तान के तौर पर होनी है। 

रमीज राजा ने कहा कि इंटरनेशनल क्रिकेट में दो रोल मॉडल हैं जिनसे वो सीख और समझ सकते हैं। पहला है विराट कोहली का कप्तानी मॉडल है जो आक्रामक है। उनकी शरीर की भाषा काफी मजबूत है और वो क्रिकेट को लेकर जुनूनी और भावुक हैं। उनकी इन्हीं काबिलियत की वजह से उनके प्रदर्शन में इतनी निरंतरता है। उन्हें इन अक्रामक कप्तानी वाली रणनीति से काफी अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। 

रमीज ने कहा कि दूसरा मॉडल है केन विलियमसन मॉडल, न्यूजीलैंड के कप्तान। एक धीमा व्यक्ति जो धीरे-धीरे कप्तानी करता है। वो मैदान पर इमोशनल नहीं होता। उनकी शरीर की भाषा विराट कोहली जितनी मजबूत नहीं है, लेकिन वो प्रोसेस को फॉलो करता है। उसका चयन शानदार होता है। उन्होंने कहा कि विराट काफी आक्रामक खिलाड़ी हैं और अगर मैदान पर कोई उन्हें स्लेज करता है तो वो जवाब देने में पीछे नहीं रहते। वो मैदान पर मजाक करने से भी पीछे नहीं रहते। विराट की सबसे अच्छी बात ये है कि इन सारी बातों को बावजूद वो मैदान पर रिजल्ट देते हैं। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस