नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। भारतीय टीम के महानतम कप्तानों में शुमार महेंद्र सिंह धौनी के साथ खेलने वाले सभी खिलाड़ी उनसे प्रभावित रहे। भारत को 2011 में विश्व कप जीताने वाले कप्तान ने अचानक से ही इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी। 15 अगस्त 2020 को उन्होंने यह फैसला सोशल मीडिया पर जारी की थी। टेस्ट क्रिकेट को भी उन्होंने अचानक ही छोड़ा था। भारतीय स्पिनर अक्षर पटेल ने उनके टेस्ट से संन्यास लेने के वाकये को सुनाया।

2004 में धौनी ने इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट से संन्यास लिया था जो अक्षर का डेब्यू दौरा था। उन्होंने कहा, "माहौल ऐसा हो गया, एक दम से सबकुछ शांत हो गया था। रवि भाई ने सबको बुलाया और कहा हमें एक घोषणा करनी है, माही रिटायर हो रहा है। रैना भाई थे वो तो रोना चालू कर दिए, मतलब सब की आंखों में पानी है। मैं तो गया, मैं बोला ये हुआ क्या भाई, ये चल क्या रहा है एकदम। मुझे ये भी पता नहीं चल रहा था कि क्या बोल रहे हैं। माही भाई को क्या बोलूं पहली बार तो मिल रहा हूं।"

तू आया और मुझे ले गया

"मेरे बोलने से पहले ही उन्होंने बोल दिया, बापू तू आया और मुझे ले गया। मैंने बोला, मैंने क्या किया है यार, तो उस समय मेरी आंखों में पानी आ गया। मैंने सोचा यार मैं आया और ये चले गए, मतलब क्या हो गया। इसके बाद उन्होंने कहा अरे मजाक कर रहा हूं और फिर मुझे आकर गले लगे।"

माही भाई को प्लेयर का यूज करना आता था

"माही भाई को इस बात का आइडिया बहुत अच्छा था कि किस खिलाड़ी से क्या निकलवाना है। जो प्लेयर का यूज करना होता है ना उन्होंने बहुत ही तड़गा यूज किया। वो खिलाड़ियों को खुद नहीं पता चलता था लेकिन उनको पता चल जाता था कि ये किस तरह से टीम के काम आ सकता है।"  

Edited By: Viplove Kumar