इंदौर, नईदुनिया। India vs Bangladesh 1st Test: भारतीय टेस्ट टीम के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे ने कहा कि टीम इंडिया गुरुवार से होने वाले पहले टेस्ट मैच में बांग्लादेश की टीम को पूरी गंभीरता से लेगी। बांग्लादेशी टीम आक्रामक प्रदर्शन करती है इसके चलते उसे हल्का नहीं आंका जाएगा। भारतीय टीम पहली बार डे-नाइट टेस्ट कोलकाता में गुलाबी गेंद से खेलेगी और रहाणे का मानना है कि इस गेंद से खेलने में ज्यादा परेशानी नहीं होगी।

अजिंक्य रहाणे ने कहा, "मैं व्यक्तिगत तौर पर इस गेंद से खेलने को लेकर उत्साहित हूं। मैं अभी तक इस गेंद से नहीं खेला। हमने एनसीए से दो से चार बार पिंक गेंद से अभ्यास किया। वह एसजी पिंक गेंद काफी स्विंग हो रही थी। हालांकि मुझे नहीं लगता कि इस गेंद से खेलने में कोई ज्यादा परेशानी होगी। हां, यह जरूर है कि इसके लिए उस पर थोड़ा ज्यादा सर्तकता से खेलना होगा। हमें गेंद को अपने शरीर के पास खेलना होगा। कोलकाता टेस्ट से पहले भी हमारे पास गुलाबी गेंद से खेलने का काफी समय रहेगा। हम कुछ सत्र दिन में और कुछ सत्र रात में भी अभ्यास करेंगे। इसके बाद ही हमें यह किस तरह बर्ताव करती है उस बारे में पता चल सकेगा। गेंदबाजों के लिए भी यह एक नया अनुभव रहेगा।"

बांग्लादेश को हल्के में नहीं लेंगे

उन्होंने कहा, "भले ही बांग्लादेश टीम के कई प्रमुख खिलाड़ी मौजूद नहीं है, इसके बावजूद हम उसे हल्का नहीं आंक रहे हैं। हम अपनी स्ट्रैंथ के हिसाब से प्रदर्शन करेंगे। हमने भले ही दक्षिण अफ्रीका को तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में सफाया किया है, लेकिन हर सीरीज की अपनी अलग चुनौती होती हैं। बांग्लादेश की टीम पहले भी कई उलटफेर कर चुकी है और हमेशा संघर्ष करने के लिए पहचानी जाती है। बांग्लादेश की टीम अच्छी है और हम उसका सम्मान करते हैं, लेकिन हमारा ध्यान विपक्षी टीम की बजाए अपनी ताकत के अनुसार प्रदर्शन करने पर रहता है और इस सीरीज में भी हम उसी हिसाब से खेलेंगे।"

द्रविड़ से टिप्स मिलना बेहद लाभदायक

भारतीय टेस्ट टीम के पांच खिलाड़ियों ने पिछले दिनों एनसीए में राहुल द्रविड़ के मार्गदर्शन में गुलाबी गेंद से अभ्यास किया था। रहाणे भी इन पांच खिलाडि़यों में शामिल थे। रहाणे ने कहा, "मैंने तो वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज से पहले भी द्रविड़ के साथ समय बिताया था। किसी के लिए भी उनके साथ रहना लाभदायक होता है। उनसे मार्गदर्शन लेना हमेशा ही लाभदायक होता है और उनके पास जब भी समय होता है तो मैं उनका मार्गदर्शन लेता हूं, वैसे भी वे मेरे आदर्श खिलाड़ी हैं।"

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप