नई दिल्ली, पीटीआइ। Ind vs Aus: ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एडिलेड में खेले गए पहले टेस्ट की शर्मनाक हार के बाद बॉक्सिंग डे मैच से भारतीय क्रिकेट टीम की कमान संभालने वाले अजिंक्य रहाणे ने कहा कि मेलबर्न में खेले गए दूसरे टेस्ट की उनकी शतकीय पारी बेहद खास रहेगी, क्योंकि इससे सीरीज में जीतने का रास्ता खुला।

बॉक्सिंग डे टेस्ट में 112 रन बनाने के बाद रहाणे ने कहा कि लॉ‌र्ड्स मैदान (17 जुलाई 2014) पर खेली गई शतकीय पारी उनके करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी है। इस 32 साल के खिलाड़ी ने कहा कि उन्हें मेलबर्न की अपनी पारी के महत्व के बारे में तब पता नहीं चला था, जिसने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की 2-1 सीरीज जीत की नींव रखी थी।

रहाणे ने कहा, "मेरे लिए यह जरूरी है कि जब मैं रन बनाऊ तो टीम जीत हासिल करें। मुझे लगता है कि वह पारी मेरे लिए वास्तव में कुछ खास है। मेरे लिए टेस्ट मैच और सीरीज जीतना उपलब्धियों के बजाए प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि लेकिन हां, मेलबर्न टेस्ट शतक वाकई खास था। मैंने मेलबर्न में कहा कि लॉ‌र्ड्स का शतक मेरे लिए सबसे खास है, लेकिन कई लोगों ने मुझे बताया कि मेलबर्न की शतकीय पारी लॉ‌र्ड्स से बेहतर थी।"

आखिरी तीन टेस्ट मैचों में टीम की कप्तानी करने वाले अजिंक्य रहाणे ने कहा, "मुझे नहीं पता था कि मैं इस पर कैसे प्रतिक्रिया दूं, लेकिन अब मुझे अहसास हुआ, एडिलेड टेस्ट मैच के बाद की परिस्थितियों को देखते हुए, मेलबर्न टेस्ट सीरीज के लिए वास्तव में महत्वपूर्ण था और हां, मुझे लगा कि मेलबर्न की पारी वास्तव में विशेष थी।"

नस्ली टिप्पणी झेलने वाले दर्शक से मिलना चाहते हैं अश्विन

भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अविन ने कहा है कि वह सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर सिक्योरिटी गार्ड द्वारा नस्ली टिप्पणी झेलने वाले भारतीय दर्शक से मिलना चाहते हैं। उन्होंने एक ट्वीट का जवाब देते हुए कहा कि मैं कैसे कृष्ण कुमार तक पहुंच सकता हूं?

Ind-vs-End

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप