नई दिल्ली, जेएनएन। एडम गिलक्रिस्ट को दुनिया के बेहतरीन विकेटकीपर-बल्लेबाज के नामों में शुमार किया जाता है। गिलक्रिस्ट तूफानी बल्लेबाज तो थे ही, विकेट के पीछे भी वो उतने ही तेज, चतुर व चालाक थे। वनडे क्रिकेट में वो अपनी टीम के लिए ओपनिंग करते थे तो वहीं टेस्ट क्रिकेट में वो सातवें नंबर के बल्लेबाज थे और उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिए खूब रन बनाए। अब अगर गिलक्रिस्ट किसी अन्य विकेटकीपर-बल्लेबाज के बारे में कहें कि वो बेस्ट थे तो जाहिर है उस खिलाड़ी में कितना दमखम होगा। 

एडम गिलक्रिस्ट ने भारत के पूर्व कप्तान एम एस धौनी, श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा, न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रैंडन मैकुलम और साउथ अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर मार्क बाउचर को अपने अनुभव के आधार पर रैंकिंग दी हैं। आपको बता दें ये सारे दिग्गज एक से बढ़कर एक विकेटकीपर-बल्लेबाज रहे हैं। गिलक्रिस्ट ने बताया कि इन चारों में बेस्ट कौन था। 

गिलक्रिस्ट ने इन चारों दिग्गजों में एम एस धौनी को पहले पायदान पर रखा। उन्होंने कहा कि इन चारों में धौनी बेस्ट हैं। इसके बाद मैं संगकारा को रखूंगा और तीसरे स्थान पर मैकुलम आते हैं। उन्होंने इन सबमें मार्क बाउचर को सबसे नीचे रखा क्योंकि वो अपनी आंखों में लगी चोट की वजह से ज्यादा नहीं खेल सके थे। विकेट के पीछे सबसे ज्यादा शिकार करने की बात करें तो गिलक्रिस्ट पहले, मार्क बाउचर दूसरे व धौनी तीसरे स्थान पर हैं। धौनी एक बेहतरीन विकेटकीपर तो थे ही साथ ही साथ वो बेस्ट फिनिशर भी थे। 

आपको बता दें कि एम एस धौनी ने 50.83 की औसत से वनडे में 10,773 रन बनाए हैं। उनकी कप्तानी में भारत ने 2007 टी20 वर्ल्ड कप, 2011 वर्ल्ड कप और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी खिताब जीता है। गिलक्रिस्ट ने कहा कि धौनी का करियर बढ़ते हुए देखना काफी अच्छा रहा। अपनी सेंचुरी के साथ वो लोगों की आंखों में आए और लोगों ने उनके खेलने की स्टाइल को पसंद किया। जिस तरह से उन्होंने खुद को हैंडल किया वो अविश्वसनीय था। धौनी ऐसे खिलाड़ी रहे जो भारतीय क्रिकेट में छा गए और हमेशा याद किए जाएंगे। 

Posted By: Sanjay Savern

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस