रायपुर, जगदलपुर। सुकमा जिले के पोलमपल्ली में दस दिन पहले अगवा किए गए सहायक आरक्षक हि़डमू कलमा को नक्सलियों को बुधवार सुबह उसके गांव की सीमा पर लाकर छोड़ दिया। गत 30 अक्टूबर को सहायक आरक्षक गांव जा रहा था, इसी दौरान कांकेरलंका के पास से नक्सलियों ने उसे अगवा कर लिया था।

आप नेत्री सोनी सोरी व परिजनों ने नक्सलियों से उसे छोड़ने की अपील की थी। छूटकर आए जवान ने पुलिस को बताया कि नक्सलियों ने उसके साथ अच्छा व्यवहार किया। हालांकि दहशत में होने के कारण उसका ज्यादा बयान नहीं लिया जा सका।

पढ़ें:जंगल सफारी में पर्यटकों को लुभा रहा मोदीवाला टाइगर

Posted By: Bhupendra Singh