रायपुर, भिलाई, ब्यूरो। सीबीआई ने छत्तीसग़ढ में बिलासपुर के जिला को-ऑपरेटिव बैंक में 100 करा़ेड रुपए से अधिक के घोटाला मामले में आठ लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। बिलासपुर जिले की 32 को-ऑपरेटिव सोसायटियों को नोटिस जारी किया गया है।
25 जुलाई 2016 को को-ऑपरेटिव बैंक बिलासपुर में घोटाले की जांच सीबीआई से कराने के निर्देश बिलासपुर हाई कोर्ट ने दिए थे। इसी मामले में बीते 20 जनवरी को भिलाई सीबीआई ने आठ लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। जिनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है, उनमें बचत बैंकों में हुई ग़डब़डी के समय तात्कालीन ब्रांच इंचार्ज, मैनेजर, सोसायटी के अध्यक्ष व अन्य शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि बिलासपुर के जिला को-ऑपरेटिव बैंक ने 57 प्राथमिक सोसायटियों को बचत बैंक संचालन की अनुमति दी थी। इन बचत बैंकों में किसानों के जमा करा़े$डों रुपए को बैंक मैनेजर व सोसायटी के पदाधिकारियों की मिलीभगत से नियम विरुद्ध दूसरे मद में उपयोग कर लिया गया था। इससे सन् 2014 में बिलासपुर को-ऑपरेटिव बैंक के 32 बचत बैंक दिवालिया घोषित हो गए थे। इससे एक सौ करा़ेड रुपए से अधिक का नुकसान हुआ है।

बच नहीं पाएंगे सहकारी बैंकों में काला धन जमा करने वाले

आयकर विभाग ने आरबीआई से कहा, सहकारी बैंकों में नकदी के रिकॉर्ड से हुई छेड़छाड़

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप