रायपुर। यहां लक्ष्मी नगर में रहने वाली एक लड़की को मॉडलिंग का शौक चढ़ गया। उसे पता चला कि उसमें लाखों रुपए खर्च होते हैं। लड़की ने उसके लिए शॉर्टकट रास्ता निकालने के चक्कर में गलत राह चुनी और पकड़ी गई।


शहर के सदर बाजार में संभव ज्वेलरी शॉप से 8 लाख रुपए के जेवरात चोरी हुए थे। मामले में क्राइम ब्रांच ने आरोपी प्रिया त्रिपाठी (19) और उसके ममेरे भाई ऋषभ द्विवेदी (18) को इलाहाबाद से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के बाद पूरा मामला सामने आ गया। प्रिया ने कबूल किया कि वह मॉडलिंग के लिए पैसे जुटाना चाहती थी, इसलिए चोरी की। प्रिया ने चोरी किए गए गहनों को रायपुर के ही एक जेवर दुकान में दो लाख रुपए में गिरवी रख दिए थे। इसमें उसके इलाहाबाद में रहने वाले ममेरे भाई ने मदद की।

ऐसे की चोरी
दरअसल, प्रिया संभव ज्वेलरी शॉप में ही सेल्समैन का काम करती थी। घटना वाले दिन वह शाम को तबीयत खराब होने का बहाना बनाकर निकल गई। दुकान के मालिक महावीर तारक को देर शाम जेवरात गायब होने का पता चला तो उनका शक प्रिया की तरफ गया। उन्होंने थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी।

भाई कर रहा था इंतजार
उधर प्रिया दुकान से निकलकर सीधे स्टेशन पहुंची जहां उसका ममेरा भाई ऋषभ द्विवेदी इंतजार कर रहा था। दोनों सारनाथ एक्सप्रेस में सवार होकर इलाहाबाद चले गए। वहां जेवर को गिरवी रख दिया। लड़की ने पुलिस को बताया है कि वह पिछले साल भी मॉडलिंग के लिए मुंबई जा चुकी है।

Posted By: Bhupendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस