नईदुनिया, रायपुर, जगदलपुर। छत्तीसगढ़ के सुकमा जिला स्थित चिंतागुफा और बुरकापाल के बीच मंगलवार सुबह हुए विस्फोट में सीआरपीएफ 74वीं बटालियन के उपनिरीक्षक बीएस बिस्ट शहीद हो गए। वहीं प्रधान आरक्षक सुधाकर को गंभीर चोटें आई हैं।

जानकारी के अनुसार, चिंतागुफा थाने से सीआरपीएफ व जिला बल की संयुक्त पार्टी इलाके में सर्चिग के लिए रवाना हुई थी। इस बीच बुरकापाल के पास सड़क के नीचे दबाकर रखे गए आइईडी में अचानक विस्फोट हो गया। इसकी चपेट में आने से उपनिरीक्षक बिस्ट शहीद हो गए। सोमवार को भी चिंतागुफा क्षेत्र में आइईडी की चपेट में आने से सीआरपीएफ के दो जवान घायल हुए थे, जिनका राजधानी में इलाज चल रहा है।

नक्सलियों ने घेरा कैंप, जवानों के भारी पड़ने पर भागेसुकमा जिले के चिंतागुफा सीआरपीएफ कैंप को सोमवार की देर शाम बड़ी संख्या में नक्सलियों ने घेरकर अचानक फायरिंग शुरू कर दी। जवानों ने भी फौरन मोर्चा संभाल लिया और जवाबी कार्रवाई करने लगे। करीब बीस मिनट की फायरिंग के बाद नक्सली भाग खड़े हुए। बताया जाता है कि नक्सली बड़ी वारदात को अंजाम देने पहुंचे थे, लेकिन जवानों के भारी पड़ने पर वे भाग खड़े हुए।

पढ़ें:राजधानी से रायपुर के लिए उड़ान 24 से शुरू

पढ़ें:इस पेड़ की पत्तियां करती है संजीवनी बूटी का काम !

Posted By: Bhupendra Singh