बिलासपुर। जस्टिस संजय के अग्रवाल ने रिश्वतकांड में फंसे आईएएस बीएल अग्रवाल की क्रिमिनल रिट पीटिशन में व्यक्तिगत कारणों से सुनवाई से इनकार करते हुए मामले को अन्य बेंच में भेजने का निर्देश दिया है। प्रदेश के आईएएस बीएल अग्रवाल ने प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) में आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के दर्ज प्रकरण को खारिज करने के लिए 11 करोड़ रुपए रिश्वत देने की पेशकश की थी।

मामले में सीबीआई ने उन्हें गिरफ्तार कर जेल दाखिल किया है। सीबीआई की इस कार्रवाई को चुनौती देते हुए बीएल अग्रवाल ने हाईकोर्ट में क्रिमिनल रिट पीटिशन दाखिल की है।

इसमें कहा गया है कि सीबीआई को कार्रवाई करने से पूर्व केन्द्र सरकार से अनुमति लेनी थी। लिहाजा सीबीआई की इस कार्रवाई को निरस्त करने की मांग की गई है।

याचिका को सुनवाई के लिए संजय के. अग्रवाल के कोर्ट में रखा गया। जस्टिस संजय के अग्रवाल ने व्यक्तिगत कारणों से याचिका में सुनवाई करने से इनकार करते हुए अन्य बेंच में भेजने का निर्देश दिया है।

Posted By: Bhupendra Singh