नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। अगर आप स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के ग्राहक हैं तो अपने नेट बैंकिंग को लेकर सावधान रहें। दरअसल, SBI ने अपने ग्राहकों को मैसेज भेजकर सावधान किया है कि अगर आपने पिछले 180 दिनों (छह महीना) में अपने नेट बैंकिंग पासवर्ड को अपडेट नहीं किया है तो इसे जल्द से जल्द अपडेट कर लें। बैंक ने अपने ग्राहकों से कहा है कि वे SBI के ऑनलाइन पोर्टल पर जाकर अपने खाते की जानकारी को अपडेट कर सकते हैं। 

SMS के जरिये चूना लगाने की है तैयारी 

बैंक के मुताबिक, हाल-फिलहाल में जालसाज SBI ग्राहकों के मोबाइल पर मैसेज भेज रहे हैं। उस मैसेज में भेजा जाने वाला लिंक SBI नेट बैंकिंग पेज की तरह ही दिखता है। मैसेज भेजकर ग्राहकों से उस लिंक पर क्लिक करने को कहा जाता है। अगर आप उस लिंक पर क्लिक करते हैं तो आपकी सारी गोपनीय जानकारी जालसाजों के पास पहुंच जाती है और इस तरह से वे आपके खाते में सेंध लगा सकते हैं।

बैंक ने कहा है कि अगर आपके पास ऐसा कोई मैसेज आता है तो आप उसे तुरंत इग्नोर करें और उस मैसेज को तुरंत अपने मोबाइल से डिलीट कर दें। बैंक के मुताबिक आपके पास ऐसा कोई मैसेज आता है तो आप इसकी जानकारी SBI के दूसरे ग्राहकों को भी बता सकते हैं।

तकनीक से आसान हुआ काम लेकिन खतरे भी बढ़े 

तकनीक से हमारा काम आसान तो हुआ है, लेकिन इसके अपने कुछ खतरे भी हैं। कई बार जालसाज सिम क्लोनिंग या सिम स्वैपिंग के जरिये ठग देते हैं। दरअसल, फ्रॉड करने वाला व्यक्ति आपके सिम का डुप्लीकेट तैयार करता है, सिम स्वैप का मतलब वह सिम बदल लेता है। फिर जालसाजी करने वाले आपके फोन नंबर से एक नए सिम का रजिस्ट्रेशन करवा लेते हैं। इसके बाद आपका सिम बंद हो जाता है। सिम बंद होने के बाद आपके नंबर पर रजिस्टर्ड हुए दूसरे नंबर पर आने वाले OTP के जरिये कोई भी आपके खाते में सेंध लगा सकता। 

इससे बचने के लिए अगर आपके सिम पर नेटवर्क ठीक नहीं है, या फिर आपके फोन पर कोई कॉल्स आ रही है और न ही कोई अलर्ट है तो तुरंत इसकी शिकायत अपने मोबाइल ऑपरेटर्स से करें। आपको सिम क्लोनिंग जैसे तरीकों से बचने के लिए अलर्ट रहना होगा।

Posted By: Nitesh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस