नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। भारत की अग्रणी मोबाइल भुगतान और वित्तीय सेवा कंपनी पेटीएम ब्रांड के मालिक वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड (ओसीएल) ने शनिवार को कहा कि उसने एक संयुक्त उद्यम सामान्य बीमा कंपनी बनाई है, जिसमें उसने 10 साल की अवधि में 950 करोड़ रुपये का निवेश करने की लक्ष्य बनाया है। वहीं, विजय शेखर शर्मा को एक बार फिर से 5 साल के लिए पेटीएम का सीईओ नियुक्त किया गया है। विजय शेखर शर्मा को 19 दिसंबर 2022 से 18 दिसंबर 2027 तक पांच साल के कार्यकाल के लिए मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर के रूप में फिर से नियुक्त किया गया है।

किसकी कितनी हिस्सेदारी

कंपनी ने एक नियामक फाइलिंग में कहा कि संयुक्त उद्यम फर्म पेटीएम जनरल इंश्योरेंस लिमिटेड (PGIL) की स्थापना के प्रस्ताव को बोर्ड ने 20 मई को मंजूरी दे दी थी। शुरुआत में वन97 कम्युनिकेशंस (OCL) की पीजीआईएल में 49 फीसदी हिस्सेदारी होगी, जबकि बाकी 51 फीसदी हिस्सेदारी ओसीएल के प्रबंध निदेशक विजय शेखर शर्मा की अगुवाई वाली वीएसएस होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड (VHPL) के पास होगी। निवेश के बाद पेटीएम की पीजीआईएल में 74 फीसदी हिस्सेदारी होगी, जिससे कंपनी में वीएचपीएल की हिस्सेदारी घटकर 26 फीसदी रह जाएगी।

पेटीएम बोर्ड का निर्णय उसके समूह फर्म द्वारा रहेजा क्यूबीई जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के अधिग्रहण के लिए एक शेयर खरीद समझौते में लेनदेन के बाद आया, जो निर्धारित समय सीमा के भीतर समाप्त नहीं हुआ था।

अपनी एक्सचेंज फाइलिंग में ओसीएल ने कहा कि उसने शर्मा को पांच साल के लिए अपने प्रबंध निदेशक के रूप में फिर से नियुक्त किया है।

विजय शेखर शर्मा फिर से बने पेटीएम के एमडी और सीईओ

विजय शेखर शर्मा (Vijay Shekhar Sharma) को एक बार फिर अगले 5 साल के लिए पेटीएम (Paytm) का एमडी और सीईओ नियुक्त किया गया है। फिनटेक कंपनी Paytm ने स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग में शनिवार को यह जानकारी दी।

कंपनी का पूर्णकालिक डायरेक्टर और चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर
कंपनी के ग्रुप सीएफओ और अध्यक्ष मधुर देवड़ा को अगले पांच वर्षों के लिए पूर्णकालिक निदेशक के रूप में अपने बोर्ड में नियुक्त किया गया है। Madhur Deora को 19 मई 2027 तक के लिए कंपनी का पूर्णकालिक डायरेक्टर और चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर नियुक्त किया गया है।

पेटीएम का रेवेन्यू बढ़ा

आपको बता दें कि पेटीएम ब्रांड के मालिक वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड (ओसीएल) ने मार्च 2022 को समाप्त तिमाही और वित्त वर्ष 2022 के रिजल्ट की घोषणा की है। कंपनी का राजस्व वित्त वर्ष 22 में 77 प्रतिशत बढ़कर 4,974 करोड़ रुपये हो गया है, जो पिछले वर्ष 2,802 करोड़ रुपये था। Q4 में कंपनी का राजस्व साल-दर-साल आधार पर 89% बढ़कर 1,541 करोड़ रुपये हो गया है।

Edited By: Sarveshwar Pathak