नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। कई बार पैसे रहते हुए भी हम अपनी जरूरतों को पूरा नहीं कर पाते। ऐसे में अक्सर लोग बैंक से लोन लेते हैं। लेकिन, इसके अलावा भी आपके पास लोन लेने का विकल्प मौजूद है। अधिकांश बैंक ग्राहकों को क्रेडिट कार्ड के बदले लोन उपलब्ध करवाते हैं। लेकिन इसपर लगने वाला ब्याज थोड़ा अलग होता है। दरअसल, क्रेडिट कार्ड की एवज में मिलने वाला लोन पर्सनल लोन की तरह ही होता है। इसमें निश्चित अवधि के साथ ब्याज दर तय होती है। आपकी ओर से लिया जाने वाला लोन आपकी कार्ड की लिमिट से ज्यादा नहीं हो सकता है। हालांकि इस पर ब्याज दर क्रेडिट कार्ड ट्रांंजेक्शन पर लगने वाली मौजूदा दर से कम होती है।

क्रेडिट कार्ड के एवज में लोन लेने वाला व्यक्ति कई तरह के लाभ ले सकता है जो अन्य क्रेडिट सुविधाओं में उपलब्ध नहीं हैं, जैसे कि क्रेडिट का तुरंत ट्रान्सफर, कम ब्याज दर। बैंक और अन्य वित्तीय संस्थाएं क्रेडिट कार्ड के बदले लोन देना पसंद करती हैं, लेकिन इसके लिए जरूरी है अच्छे क्रेडिट हिस्ट्री का होना, इसके अलावा आपके रीपेमेंट की हिस्ट्री कैसे है यह भी मायने रखता है। क्रेडिट कार्ड के बदले लोन पाने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि क्रेडिट कार्ड से आपका लेनदेन कैसा है, आप कम क्रेडिट का इस्तेमाल करते हैं और समय पर उसका भुगतान कर देते हैं।

क्रेडिट कार्ड के बदले मिलने वाले लोन राशि को बैंक आपके बचत खाते में भेज देते हैं, हालांकि, अगर ग्राहक के पास बचत खाता नहीं है तो ऐसी स्थिति में पैसा एनईएफटी या डिमांड ड्राफ्ट के माध्यम से भेजा जाता है। लोन वाले राशि को खाताधराक के खाते में भेजने में 7 दिन का समय लगता है। हालांकि, इसे 7 दिन के भीतर कभी भी भेजा जा सकता है। जबकि अगर इसे डिमांड ड्राफ्ट के जरिये भेजा जाये तो इसमें दो हफ्ते तक का समय लग सकता है।

बैंक लोन देने के पहले ग्राहकों के बारे में कुछ सूचनाएं जुटाते हैं। जैसे, नाम, पता, जन्मतिथि, क्रेडिट कार्ड के प्रकार, लोन रिक्वेस्ट कब की गई थी। हालांकि, बैंकों की ओर से की जाने वाली पूछताछ बैंकों में अलग-अलग हो सकती है।

Posted By: Nitesh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप