नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को आधार की अनिवार्यता को लेकर फैसला सुनाया। कोर्ट ने आधार को सिर्फ पैन से लिंक कराने की अनिवार्यता को बरकरार रखा है। साथ ही आधार यूजीसी, नीट और सीबीएससी परीक्षाओं के लिए भी अनिवार्य नहीं है। इस पर पांच जजों की खंडपीठ ने फैसला सुनाया।

उल्लेखनीय है कि यह बायोमैट्रिक डेटा कोर्ट की इजाजत के बिना किसी के भी साथ साझा नहीं किया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सरकार को अब यह सुनिश्चित करना होगा कि अवैध प्रवासियों को आधार कार्ड नहीं मिले। जितना संभव होगा केंद्र सरकार जल्द से जल्द डेटा प्रोटेक्शन के लिए एक मजबूत कानून बनाएगा। इसमें न्यायाधीश ए के सीकरी, चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया दीपक मिश्रा और न्यायधीश ए एम खानविलकर प्रमुख रुप से शामिल थे। वहीं दो अन्य जजों में जस्टिस डी वाई चंद्रचूर्ण और अशोक भूषण ने अपनी अलग-अलग राय लिखी।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अगर आप भी पेटीएम, बैंक खातों और मोबाइल कनेक्शन से अपने आधार को डीलिंक करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फ़ॉलो करें...

  • आधार से पेटीएम को कैसे करें डीलिंक

  • इस नंबर पर (01204456456) पेटीएम कस्टमर केयर को कॉल करें।
  • अपने आधार को डीलिंक करने के लिए उन्हें ई-मेल भेजने को कहें।
  • फिर आपको पेटीएम की ओर से एक ई-मेल मिलेगा, जिसमें आपको आधार की एक सॉफ्ट कॉपी भेजने के लिए कहा जाएगा। कॉपी भेज दें। इसके बाद आपको एक मैसेज और मिलेगा जिसमें लिखा होगा कि प्रिय ग्राहक आप सत्यापन के लिए हमें आधार की एक साफ-सुथरी कॉपी अपडेट करें।
  • इसके बाद आप आधार की फोटो के साथ वापस मेल करें।
  • फिर आपको पेटीएम की ओर से एक मैसेज आएगा कि 72 घंटे के भीतर आपके आधार को अनलिंक कर दिया जाएगा।
  • पेटीएम पर जाकर चेक करें कि आपका आधार डीलिंक हुआ है या नहीं।

बैंक खाते से आधार कैसे डीलिंक करें

  • इसके लिए आपको अपने बैंक शाखा में जाना होगा।
  • अपनी बैंक शाखा में जाएं
  • कस्टमर सर्विस पर जाकर आधार को डीलिंक करने के लिए उनसे एक फॉर्म मांगे।
  • फॉर्म भरकर जमा करें
  • बैंक अकाउंट से आपके आधार को 48 घंटे के भीतर डीलिंक कर दिया जाएगा।
  • क्या आपका आधार बैंक खाते से डीलिंक हो गया है इसके लिए बैंक को कॉल कर पता लगाएं।

 

Posted By: Nitesh