नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। निवेश शुरू करने से पहले व्यक्ति को कई सारी बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है। बहुत से लोग निवेश शुरू करने से पहले अपने पुराने लोन को नहीं चुकाते हैं। इसलिए कभी भी निवेश शुरू करें तो यह ध्यान रखें कि आप अपने सारे पुराने कर्ज अदा कर दें। निवेश से पहले एक बजट बनाएं जिनमें आपके खर्चे, आपकी आय शामिल हो फिर इसके बाद एक इमेजेंसी फंड भी तैयार करें और तब जाकर निवेश शुरू करें। हम इस खबर में निवेश से जुड़ी कुछ जरूरी बातें बता रहे हैं।

एक बजट तैयार करें

अपने नियमित खर्चों के साथ बिना बजट के निवेश की शुरुआत न करें। घर के खर्चे को देखते हुए आय और खर्चों के बाद जो राशि बचती है उसका इस्तेमाल निवेश में करें। खर्चे कई तरह के हो सकते हैं जैसे स्कूल फीस, परिवहन लागत, किराने का सामान, कर्ज ईएमआई, आउटिंग आदि। आप चाहें तो उन्हें एक महीने, तीन महीने या छह महीने के आधार पर अलग भी कर सकते हैं। स्पष्टता।

लोन से छुटकारा पाएं

निवेश शुरू करने से पहले अपने सभी कर्जों को भुगतान करे दें। कर्ज चाहे वो होम लोन हो, पर्सनल लोन हो, कार लोन हो या फिर क्रेडिट कार्ड का लोन हो, इन सभी लोन का पेमेंट कर दें। ताकि आपको आगे चलकर कोई दिक्कत न हो। कोशिश करें कि आपके लोन का भुगतान जल्द से जल्द हो जाए।

एक लक्ष्य तय करें

निवेश शुरू करने से पहले यह तय करें कि आपका लक्ष्य क्या है? आप किस लिए निवेश कर रहे हैं। आपके निवेश का मकसद क्या है? क्या आप शोर्ट टर्म के लिए निवेश कर रहे हैं, या आप मीडियम टर्म या लॉन्ग टर्म के लिए आपका निवेश है? एक टारगेट सेट करके निवेश करने में ही फायदा है।

इमरजेंसी फंड तैयार रखें

निवेश से पहले सबसे जरूरी है कि आपके पास एक इमरजेंसी फंड होना चाहिए। इसकी जरूरत तब महसूस होती है जब किसी करणवश आपकी नौकरी चली जाए, कोई मेडिकल इमरजेंसी आ जाए। यह फंड समय-समय पर बनाया जाता है, न कि एक बार में। इस फंड में कम से कम छह महीने के लिए घर के खर्च के वास्ते राशि होनी चाहिए। 

Posted By: Nitesh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप