नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। 1 करोड़ रुपये में आप क्या कुछ नहीं कर सकते? इतना पैसा घर खरीदने, कार खरीदने, बच्चों की शादी करने और एक बेहतर लाइफ जीने के लिए काफी होता है। नौकरीपेशा लोग जीवनभर अपनी पाई-पाई जोड़ते हैं फिर भी वो इतनी बड़ी रकम नहीं जुटा पाते हैं, क्योंकि यह एक मुश्किल काम है। हालांकि अगर आप सूझबूझ के साथ निवेश करें तो यह मुश्किल भी आसान हो जाती है। आप भी अगर सही रणनीति से काम लें तो 30 सालों के भीतर 1 करोड़ से ज्यादा का फंड जुटा सकते हैं।

कैसे करनी होगी बचत की शुरुआत?

अगर आपने 20 से 22 साल की उम्र में नौकरी की शुरुआत की है तो किसी प्राइवेट नौकरी में अच्छी खासी सैलरी तक पहुंचने में कई सालों का वक्त लगता है। अगर आपने 25,000 की सैलरी से शुरुआत की है तो 50 से 60,000 तक पहुंचते पहुंचते आपकी उम्र 30 के करीब हो चुकी होगी।

लेकिन अगर आप किसी बड़ी आईटी कंपनी में अच्छे पद पर काम कर रहे हैं, या फिर अगर आप गैजेटेड अधिकारी के तौर किसी सरकारी महकमे में काम कर रहे हैं, तो जाहिर तौर पर आपकी सैलरी 60,000 रुपये से ऊपर होगी। अच्छी सरकारी नौकरी पाते-पाते भी लोगों की उम्र 30 के करीब हो चुकी होती है। 60,000 से ऊपर की सैलरी में आप अपने तमाम खर्चों के अलावा 10,000 रुपये की बचत आसानी से कर सकते हैं। बस यही रणनीति आपके काम आएगी।

कैसे बनेगा 1 करोड़ रुपये से ज्यादा का फंड?

मान लीजिए आप अपनी सैलरी के हिसाब से तमाम खर्चों और जरूरत की सेविंग के अलावा भी हर महीने 10,000 रुपये की सेविंग करने में सक्षम हैं, तो आप अपनी इस अतिरिक्त सेविंग को सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान में लगा सकते हैं, जिसे सामान्य भाषा में सिप कहा जाता है। अगर आप 10,000 रुपये की प्रतिमाह सेविंग को अगले 30 वर्षों तक जारी रखते हैं, तो 15 फीसद के अनुमानित रिटर्न के लिहाज से 60 वर्ष का होते होते आपके पास 1.8 करोड़ रुपये का फंड होगा।

Posted By: Praveen Dwivedi