नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। छोटी बचत योजनाओं में निवेश करने वालों के लिए इंडिया पोस्ट नौ छोटी बचत योजनाओं की पेशकश करता है। इन्हीं नौ छोटी बचत योजनाओं में से एक योजनाओं में से एक है पोस्ट ऑफिस RD योजना। Recurring Deposit (RD) हमेशा से एक सुरक्षित निवेश विकल्प के तौर पर जाना जाता है। यदि आप RD में निवेश करना चाहते हैं तो Post Office की RD योजना के तहत आप केवल 100 रुपये प्रति महीने के हिसाब से निवेश कर सकते हैं।

इंडिया पोस्ट ऑफिस की वेबसाइट के मुताबिक, मौजूदा वक्त में पोस्ट ऑफिस आरडी (Post Office RD) पर 5.8 फीसद सालाना ब्याज का फायदा हासिल होता है। हालांकि, RD से मिलने ब्याज पर टैक्स भी देना पड़ता है। इस योजना की विशेषता यह है कि RD में ब्याज दर तीन महीने की चक्रवृद्धि के हिसाब से होती है।

कौन कर सकता है निवेश

RD के तहत निवेशक एक तय राशि को निवेश करके ब्याज का लाभ हासिल कर सकते हैं। Post Office के तहत खुलने वाली RD की अवधि पांच साल के लिए होती है। Post Office RD पांच साल की अवधि के साथ आती है। इस योजना में कम से कम 100 रुपये हर महीने की रकम के हिसाब से अकाउंट खोला जा सकता है। वहीं, अधिकतम रकम की कोई सीमा नहीं है।

ऑप्टिमा मनी मैनेजर के फाउंडर और CEO पंकज मठपाल के मुताबिक, अगर आपकी बचत कम है और आप छोटी बचत योजना में निवेश करना चाह रहे हैं तो Post Office RD आपके लिए एक सबसे सुरक्षित विकल्पों में से एक हो सकती है। इसमें निवेशक 100 रुपये की बेहद छोटी रकम से निवेश करने के साथ जमा राशि पर सरकारी सुरक्षा का फायदा भी हासिल होता है।

मिलता है लोन का लाभ

Post Office RD योजना के माध्यम से आप लोन भी हासिल कर सकते हैं। अगर आपने पोस्ट ऑफिस RD के तहत अपनी 12 किस्तें जमा कर दी हैं तो आपको लोन मिल जाएगा। इसके तहत आप अपने खाते में जमा रकम के 50 फीसद हिस्से तक की रकम का लोन लिया जा सकता है।

डिपॉजिट की रकम

डाकखाने के तहत RD योजना में इनवेस्ट करने के लिए आपको हर महीने 100 रुपये इस खाते में जमा कराना होगा। अगर आपका अकाउंट महीने के शुरुआती 15 दिनों के अंदर खुला है, तो आपको हर महीने की 15 तारीख तक उसमें रुपये जमा कराने होंगे। लेकिन, अगर आपने अपना खाता महीने के शुरुआती 15 दिनों के बाद खुलवाया है, तो आपको उसमें महीने की आखिरी तारीख से पहले रुपये जमा कराने होंगे।

कौन खुलवा सकता है खाता

डाकखाने की RD योजना में कोई भी व्यक्ति जो 18 साल का या उससे ज्यादा की उम्र का हो अपना अकाउंट खुलवा सकता है। इसके साथ ही वह अपना ज्वाइंट अकाउंट खुलवा सकता है। अगर नाबालिग का अकाउंट खुलवाना है तो उसकी ओर से उसका अभिभावक, अपने नाम पर 10 साल से ऊपर के नाबालिग का अकाउंट खुलवा सकता है।

Edited By: Abhishek Poddar